Friday, 26 February 2010

Jacob Midterm

आगले अवकाश भारत को

Sathish Winter 2010 Oral Midterm

If I was India's president...

Jay's Midterm Vacation

Jay's Midterm Vacation

Gorav oral test

Gorav oral test

Wednesday, 24 February 2010

Reejuta Midterm Oral Test

Where would you like to go on your next vacation? Which three countires would you be least interested to visit? Give your reasons.

Saved Video Recording

Rupal test

Ashima's Favorite Vacation Spots

Ashima's Favorite Vacation Spots

If I were president of India

Midterm Oral

Midterm Oral

Midterm Oral

Saved Video Recording

Olivia Midterm

Aneka's Hindi Midterm

Vacation places

Akhil's Hindi Midterm

Where Akhil does (and doesn't) want to go

Where I wouldn't want to go

Where I wouldn't want to go

Shivani's midterm oral 1

Shivani's midterm oral 1

Kamayani's Hindi Midterm

Kamayani's Hindi Midterm

Monica Wants to go to Florida!

Monica Wants to go to Florida!

Midterm Oral

First topic, where I want to go and where I don't want to go.

Kimi Midterm Oral Exam

Kimi Midterm Oral Exam

ronak ka midterm

ronak ka midterm

Chirag goes on Vacation

Chirag goes on vacation

midterm niharika

midterm niharika

Darpit's Midterm

Darpit's Midterm

Sathish Winter 2010 Oral Midterm

If I was India's president...

Where I wouldn't want to go

Where I wouldn't want to go

Vacation fun

midterm exam recording

Jacob Midterm

आगले अवकाश भारत को

Reejuta Midterm Oral Test

Where would you like to go on your next vacation? Which three countires would you be least interested to visit? Give your reasons.

Sonali's vacation wishes

Sonali wishes to go on vacation to Europe

Matt Midterm

Matt Midterm

Adeeb's Countries

Adeeb's Countries

Monday, 22 February 2010

गांधीजी

2 अक्टूबर 1869 को भारत के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति का जन्म हुआ. इनका नाम है मोहनदास करमचंद गाँधी. लोग इन्हें "देश के बापु" के नाम से भी याद करते है क्योंकि इन्होने भारत के लिए बहुत कुछ किया. 1915 में गाँधीजी साउथ अफ्रीका के लिए रवाना हुए. वहा वह एक वकील थे. साउथ अफ्रीका में उन्होंने हिन्दुस्तानी लोगो की मदद कि. कुछ साल बाद वह वापस लौट आया. भारत की आज़ादी के लिए गांधीजी ने ब्रिटेन के खिलाफ एक आन्दोलन शुरू किया. हिन्दुस्तानी लोगो का साहस बढाया, लेकिन हिंसा के बिना. गांधीजी के लिए एक नया धरा शुरू हुई, सत्याग्रह के नाम से. इस में लोग शांति और अहिंसा के साथ आज़ादी मांगते रहेते. लेकिन 1948 मे उनका मृत्यु हो गया. भारत में लोग महात्मा गाँधी बुलाने लगे. उनके स्मरण में हम हर साल को २ अक्टूबर गाँधी जयंती उत्सव मनानते है. गांधीजी हमेशा सत्य, अहिंसा, और आज़ादी का पालन किया, और हमको इनके नाम से भी ये सिद्धांत याद करना चाहिए.

जवाहरलाल नेहरु

सब लोगों को पंडित जवाहरलाल नेहरु का नाम जानते मालूम हैं। भारत बहुत साल के लिए इंग्लैंड के साथ लड़ाई करते थे आजादी जीतने के लिए और जवाहरलाल नेहरु इस आन्दोलन का था। नेहरु का जन्म १४ नवम्बर १८८९। वह नेहरु परिवार का एक ही पुत्र थे। उसकी तीन बेहेने थे और उसकी माता-पिता स्वरुप रानी और मोतीलाल नेहरु थे। उसका पिताजी, मोतीलाल नेहरु, अल्लाहाबाद में बड़े नेता और वकील थे। जवाहरल नेहरु इंग्लैंड में भेज गए क्योंकि वहां खूब अच्छे स्कूल्स थे। पड़ने के बाद, नेहरु भारत फिर से आया और काम शुरू किया। चार साल के बाद, नेहरु ने कमला को शादी किया और थोडा देर बाद, महात्मा गाँधी को मिला।

शुरू से, जवाहरलाल नेहरु को महात्मा गाँधी का नियम अहिंसा के बारे में पसंद थे । नेहरु कड़ी कुरता और "गाँधी टोपी" पहेने लगे। नेहरु कांग्रेस पार्टी का नेता था और आजादी के लिए खूब काम किया। कभी कभी वह "जेल" गया। आन्दोलन के बाद, जवाहरलाल नेहरु भारत का पहला प्रदान मंत्री बन गया और नेहरु भारत को खूब मदद किया। उसकी पुत्री, इंदिरा गाँधी, नेता बन गयी और उसकी बच्चे भी राज्य के लिया काम शुरू किया। अभी सब लोग नेहरु-जी का याद बहुत प्यार से याद करते हैं। हम उसका याद कभी नहीं भूलेंगे क्योंकि जवाहरलाल नेहरु एक बढ़िया आदमी थे।

- नीना

Thursday, 11 February 2010

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच

मेरा मनपसंद भारीतय लोक नाच है गरबा-रास। जब से मै छोटा था मेरे माता-पिटा उनके दोस्तों के साथ गरबा-रास खेलते थे। मै सात साल का था जब मेरी माँ ने मुझे रास सिखाया। कभी कभी मै बड़ो के साथ खेलता था लेकिन मेरे सब दोस्त बहार फुटबाँल खेलते थे। इस लिए बचपन मे मैने गरबा-रास मे ज्यादा ध्यान नहीं दिया।

जब मै बड़ा हो गया मै गरबा-रास तो भूल ही गया। लेकिन काँलेज मे मेरे दोस्तों को गरबा-रास बहुत पसंद था और उन्होंने मुझ को फिर से सिखाया। काँलेज के दुसरे वर्ष मे मैने भारतीय शो के लिए गरबा-रास मे भाग लिया। काँलेज के तीसरे वर्ष मे मै और मेरे सब दोस्त मिशिगन की रास टीम मे शामिल होने की कोशिश की। मेरे सभी दोस्तों टीम मे शामिल हो गए, लेकिन मै नहीं चुना गया। डांडिया धमाका के एक दिन पहले मेरा दोस्त विक्रम बहुत बीमार हो गया। उसने मुझे पुचा के 'क्या मै उनकी जगह ले सकता हूँ?' मैने डांडिया धमाका मे हिस्सा लिया और हमारी टीम डांडिया धमाका जीत गयी। आगले साल भी हम जीते। अब हम सब रास खिलाडियो पुराने हो गए है और अब हम सिर्फ दोस्तों की शादीयो मे गरबा-रास खेलते है।

Monday, 8 February 2010

मेरा मनपसंद नाच

मुझे नाचने का बहुत शौक है और मैं हर तरह का नाच सीखा है जैसे कि भरतनाट्यम, भंगड़ा, सालसा, टांगो, चा-चा वगैरह. लेकिन मेरा सबसे मनपसंद नाच एक भारतीय नाच है और वह है भंगड़ा! रंगबिरंगे कपडे, खूब सरे ज़ेवर और बहुत साड़ी ऊर्जा इस नाच को दिलचस्प बनातें हैं. मेरी माताजी पंजाबी हैं और इसलिए उन्हें पंजाबी संगीत बहुत अच्छा लगता है. पंजाबी संगीत बहुत उत्साहित होता है और सुनने मैं बहुत मज़ा आता है. मेरे कुछ मनपसंद पंजाबी गायक है दलेर महेन्दी, इम्रान खान, आर.डी.बी. और मिका और मैं इन्हें रोज़ सुन्नती हूँ.
मैं अपने स्कूल मैं भंगड़ा टीम कि हिस्सेदार थी और हमने काफी कम्पटीशन मैं भाग लिया. बहुत मज़ा आता था स्कूल के बाद प्रक्टिस करना! हम सब मिलके नाच के स्टेप्स का निर्णय लेतें थें. हाई स्कूल के सीनयर यर मैं हमने एक कम्पटीशन भी जीता था और हमे ट्रोफी मिली थी. मैं बहुत खुश हुई इस जीत से और मैंने निर्णय लिया कि मैं कभी भंगड़ा नाचना बंद नहीं करूंगी.
अभी भी जब भी कुछ खाली समय मिलता है, मैं भंगड़ा करना शुरू कर देती हूँ!

Sunday, 7 February 2010

मेरी मनपसंद नाच - रौनक छाया

मुझे बहुत नाचने का शौक है और सभी तरीके के नाच आते है, लेकिन मेरा मनपसंद नाच रास-गरबा है. मैं गुजराती हूँ इसलिए हमारा सभी पार्टियाँ में यही करते हैं. गरबा में बूडा या जुवानी आदमी नाच सकते हैं क्योंकि अलग अलग तारीक से कर सकते है...कुछ लोग जल्दी नाचते है और कुछ लोग धीरे-धीरे करते हैं. गरबा न प्राचीन ही न आधुनिक ही है मतलब सभी लोग इस में आनंद मिल सकती है. रास - गरबा में हमारी संस्कुती के बारे में भी सीख सखेंगे क्योंकी जब नवरात्री आती हैं मेरा माथा-पिता कोई नया बात सीखाते हैं. जब हम रास-गरबा में जाए तब बहुत रंगीला कपडे पहेंते है. पिछले समेस्टर मैं रास टीम पर था कुल्चुरल शो में. चोबीस लोग था टीम पर और हम दो महीना से अभ्यास किया. मैं दूसरों लोग को सिखाता था क्योंकी मुझे पहले से यह नाच आती थी. जब में भारत गया था मुझे बहुत अजीब लगा की कुछ गुजरात का लोग नहीं रास-गरबा कर सका. मैं यहाँ रहकर उस लोगों को ज्यादा नचा और उस लोगों को सिखाये. मुझे लगता है की यह बहुत ख़राब है क्योंकि अगर भारतीया लोग भूल जयेगाग थो अमरीका का हिन्दुस्तानी लोग केसे हिन्दुस्तानी चीज में भाग लेयेंगे? फिर भी मुझे रास-गरबा बहुत पसंद है और मैं अपने बच्चों को सिखाऊँगा.

Thursday, 4 February 2010

मेरी मनपसंद नाच

मेरा पास सिर्फ एक पसंदीदा भारतीय लोक नाच हैं . मेरी मनपसंद नाच रास (गरबा) हैं . रास-गरबा में छड़ें हैं, और नर्तकियों ने उन छड़ें उपयोग करते हैं . कुछ रास शैली में लोगो हलकों बनता हैं, और छड़ें मारते हैं . उस छड़ें "डंडियों" हैं, और सुन्दर हैं, और बहुत रंग में आये. मेरे घर में दो नीले डंडियों हैं . रास में बहुत उच्चे गाने भी हैं. मैंने अपना बचपन में बहुत रास नाचा . जब मेरे माता-पिता ने मुझे मंदिर को लिए, तो मैंने गरबा नाचा . गरबा-रास गुजरात से आया, और मेरे माता-पिता भी गुजरात से हैं, इसलिए गरबा-रास उसके भी मनपसंद नाच हैं . हिन्दुस्तानी अवकाश के दौरान मैं गरबा नाचता हूँ . दोनो नवरात्री और दिवाली दो सुबसे बड़े गरबा कि अवकाश हैं . ज्यादातर हिन्दुस्तानी लोग अपने शादियों में थोड़ी नाच हैं . अम्रीका में ज्यादातर लोग गुजराती हैं, इसलिए ज्यादातर शादियों में रास हैं . मैंने अपने अनुरूप के शादियों या ग्रेदुएशुं (graduation) के दौरान नाचता हूँ . मुझे भंगरा और क्लेसिकल भी उच्चे लगते हैं .

जेकब की मनपसंद लोक नाच

मैं नहीं जानता हूँ कोई नहीं भारतीय लोक नाच के बारे में, लेकिन मेरी आशा है कि भांगड़ा के बारे में विकिपीडिया के साथ पढ़ सकूँगा. विकिपीडिया के पास भांगड़ा के बारे में एक लंबा निबंध है. निबंध में, कहते हैं कि भांगड़ा पुंजाब में शुरू किया. शुरू में, बैसाखी के लिए था. भांगड़ा की गीत पुंजाबी में हैं, और उन में इक्तार और ढोल हैं. मैं खुश हूँ कि भांगड़ा के बारे में सिख सकता हूँ. संभव है कि बहुत भांगड़ा देखूँगा. मेरी आशा है कि देख सकूँगा. शायद भांगड़ा देखना के बाद, मैं आधिक भांगड़ा के बारे में बोल सकता हूँ!

मेरा मनपसंद नाच

मेरा पसंदीदा भारतीय नाच भंगरा है। भंगरा भारत के पुनजब प्रदेश में शुरू हुआ। पुनजब के खेतों में यह नाच किसानों ने करना शुरू किया वेशकी के लिए। किसान जिस तरह कम करते थे उसी तरह नाचते थे। जब भारत और पाकिस्तान अलग हुआ थे कुछ पंजाबी लोग दुसरे हिस्सों में जाकर भंगरा को मशुर कर दिया थे। यह नाच आसान था और मनोरंजक था इसलिए बहुत लोगों ने इस नाच को काफी पसंद किया। पुराने ज़माने में लोग पंजाबी लोकसंगीत पर करते थे। ढोल, एकतार, और चिंता से आवाज़ बनती थी। उसके साथ साथ लोग गाने भी गाते थे। १९८० में बहुत सरे बांड्स उ.क से भंगरा नाच को भंगरा संगीत दिए। ये बांड्स भंगरा को बहुत प्रचलित बनाएं। इसलिए भंगरा इतना मशुर है की हर पार्टी और शादी में यह लोकनाच किया जाता है। भारत के इलावा, पूरी दुनिया में भंगरा नाच होती है। मुझे भंगरा आच्छा लगता है क्योंकि बहुत आसान और मजेदार नाच है। मुझे इसकी ताल भी पसंद है। इमरान खान, गुरदास मन, मलकीत सिंह, और दलेर मेहँदी ने भंगरा को दुनिया में बहुत पोपुलर करें हैं.

डांडिया रास

रास मेरा मनपसन्द नाच है. रास "वृन्दाव्म" भारत से है, लेकिन वह लोक-प्रिय गुजुरात में. गुजरात में, लोग रास नाचते हैं एक विशेष रात पर: "नवरात्री".

रास में, आदमी और औरते दो गोलियों में नाचते हैं. उनके हाथों में, दो डंडिया हैं. डंडिया अठारह "इंच" हैं. "वेस्ट" में, लोगे कभी कभी दो "लाइन" बनाते हैं, गोलिया नहीं.

अक्सर नाच हिन्दू भगवान "कृष्ण" के बारे में। आजकल, विशेषत कॉलेज कैम्पस पर, छात्रों परम्परागत (पुराना) कदम नया कदम के साथ मिलाते हैं. रास एक लोक नाच है, लेकिन वह अधिसमय बदलेंगा.

दो प्रकार रास हैं। गार्बा रास और डांडिया रास है. भारत प्रदेश पर नाच का तात्पर्य बदलता है. औरते और आदमी परम्परागत कपड़े या अमेरिकन कपड़े पहन सकते हैं. कुछ प्रदेश में, औरते साल्वार कमीज़ पहनती हैं और आदमी केडिया और पगड़ी पहनते हैं.

यह जरूरी है की सब लोगों के पास बहुत ऊर्जा हैं इस नाच के लिए. बहुत मजेदार है परिवार और दोस्तों के साथ नाचना. एक बार, एक भारतीय वाकये में, मैं रास नाची मेरे परिवार और दोस्तों के साथ. हमने यह नाच नहीं समझा लेकिन, मेरी गुजराती सहेली "सोहनी" ने हमें दिखाया और सिखाया. नाचने के बाद, मेरे परिवार में, सब लोगों को अंग अंग दीला हूआ लेकिन अंग अंग मुसकरा उठा भी.

Wednesday, 3 February 2010

मेरा मनपसंद लोक नाच

मेरे पास मनपसंद भारतीय लोक नाच नहीं था क्योंकि मुझे उनके बारे में नहीं मालूम था। ऐसा मैंने एक नाच का अनुसंधान किया! मुझे "Dalkhai" (डल्खई?) का नाच पसंद है। यह नाच पश्चिमी उड़ीसा में प्रचलित है। वहां लोग Dalkhai बहुत उत्सव में नाचते हैं नाच छोटी औरत के लिए है और ये नर्तकियां नाच के लिए संबलपुरी भाषे में गाती हैं। गाना बहुत खुश है क्योंकि अक्सर लोक नाच खुशी लाते हैं। मैं गाने को सुनकर अंग-अंग मुस्काता हूँ। शायद मैं गाने के बारे में मेरे दोस्त को सुनाऊँ। वे मुझसे नाच उनको दिखवाएंगा। नाच का नाम "Dalkhai" है क्योंकि हर छंद के आदि और अंत पर गानेवाली यह नाम बोलती हैं। यह शब्द दिखाता है कि गानेवाली लड़की को बात कर रही हैं गाना हिन्दू संस्कृति में एक प्यार की कहानी के बारे में है गाना प्रकृति भी के बारे में हो सकता है। शायद वे आकाश, पाताल, प्रकाश, पेड़, और सूरज के बारे में गाती हो! नाच में लड़कियाँ अपनी टाँगें झुकती हैं और वे क्षेत्र में नाचती हैं। हर लोग नाच में सुरूप साड़ियों और दुपट्टे पहनती हैंउनको नाच उछलने में बहुत समय लगते हैं

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच

मुझे पास एक मनपसंद भारतीय लोक नाच नहीं. मुझे सब भारतीय लोक नाच का थोडा पसंद है.

मेरी सखी निक्की एक भारतीय लोक नाच टीम पर है. इस टीम का नाम "माया डांस टीम" है. माया एक क्लास्सिकल फुसिओं टीम है. माया भारत नाट्यम, कत्थक, ओदिस्सी, और कुद्चिपुदी स्त्य्लेओं में नाचते है. हमारा क्लास का नीना भी माया में है. मुझे माया का पसंद है क्योंकि मुझे सब स्त्य्लों का मिश्रण का पसंद है. मुझे कत्थक, ओदिस्सी, और कुचिपुड़ी का परिचित नहीं हैं, लेकिन मुझे भारत नाट्यम का परिचित है, और मुझे थोडा उभाऊ लगता है. माया का नाच में कुछ उभाऊ नहीं है.

मुझे रास और गरबा का थोडा पसंद है. मेरे बहुत दोस्तों रास करते है. मेरी किघ स्कूल की सबसे अच्छी दोस्त, हमारा क्लास का किम्मी, और कोई दोस्तों. रास एक बहुत सुन्दर और रंगीन नाच है, लेकिन बहुत विविध नहीं है. रास और गरबा, थोडा समय के बाद, बहुत उभाऊ और दोहराव लगता है. मैं एक रास का कोम्पेतितिओन, डंडिया धमाका, में हु. में और चिराग इस कोम्पेतितिओन चले, इस पिछले सप्ताहांत. और दस रास टेंस के बाद मुझे रास का कुछ पसंद नहीं है. बहुत ज्यादा रास था.

भंगरा सब नाचों का ज्यादा पसंद है. भंगरा में बहुत ऊर्जा और प्रवाह है, और सुब नाचनेवाले उनके दिमाग खो सकते हैं, गीत में. मुझे भंगरा देखना बहुत पसंद है, लेकिन मुझे भंगरा नाचना नहीं जनता हूँ.

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच

मुझे हिन्दुस्तानी नाच बहुत पसंद है. मुझे रंगबिरंगे कपडे, अच्छा संगीत, और शाक्ति पसंद हैं. मेरे मनपसंद भारतीय लोक नाच भंगड़ा, फ्यूजुन, और बालीवुड हैं.

अच्च्विघालय में, मेरे अच्छे दोस्त नंदिता, कविता, और अनीता को बालीवुड फिल्मे देखना बहुत अच्छे लगते थे. उसने एक फ्यूजुन नाचने का क्लब चालु किया. मै, नंदिता, कविता, अनीता, मेरी बहन, और तीन और लडकिया क्लब में थे. वे बहुत नाच नूत्य निद्रेशन करते थे. नाच में भांगड़ा, बालीवुड, गरबा, और डंडिया रास मिलाते थे. हम रंग के रीमिक्स बनाते थे. हमारे नगर में, हमारा क्लब सुपरिचित था. हम अपने नगर और सिंसिन्नाती में सिर्फ प्रदर्शित करते थे. दो बार, हम नाचने के प्रतिद्रन्दते में प्रयल किये. एक बार, हम एक जयचिह्र जीते. कभी-कभी हमारे नाचने के कथन दीर्घ थे. कब हम सब यूनिवर्सिटी गये थे, हम नाचना छोड़े, लेकिन, हम अचल बहुत अच्छे दोस्ते हैं.

मुझे भांगड़ा भी बहुत पसंद है. मै पंजाबी है, और मेरे चचेरे और पंजाबी परिवार को बांगडा बहुत पसंद है. मुझे भांगड़ा का संगीत पसंद है क्योकि यह ताजा और जल्दी है. भांगड़ा के पार्टिया भी बहुत मजेदार हैं.

मै बालीवूड के नाच भी पसंद हैं. हर बालीवूड फिल्मो में कुछ नाच हैं. मुझे सब बालीवूड नाच पसंद हैं. अभिनेत्री और अभिनेते के कपडे रंगबिरंगे और सुन्दर हैं. अभिनेत्री और अभिनेते बहुत गुणवान हैं, तो वे बहुत अच्छे नर्तक हैं.

मेरा मन पसंद भारतीय लोक नाच है गरबा.

मेरा मन पसंद भारतीय लोक नाच गरबा है. गरबा गुजरात में बहुत महशुर है, और हम लोगो को नाचने में बहुत आनंद आता है. मुझे याद है कि बचपन में हर साल मेरा परिवार नवरात्री के लिए गरबा नाचते थे. मेरी माँ मुझे चमकीले रंग के कपडे पहनाती थी. मुझे सुन्दर गहने भी पहनने चाथी थी. मुझे चूडिया पहनना बहुत आच्छा लगता था. नाचने के लिए हम देअर्बोर्ण जिम में जाते थे. वहा बहुत बड़े हॉल में सब लोग नाचते थे. जोर से संगीत बजता था, और लोग चुककर में घुमाते थे... अभी भी मुझे यह सब बहुत याद आता है. कॉलेज आकर मुझे नवरात्री में गरबा करने का समय नहीं मिला. लेकिन मैं बहुत गुजराती शादिय में जाती हूँ. इस में भी हम गरबा करते है, और मुझे बहुत मज़ा आता है. शादी के एक दिन पिछले, होनेवाले पति-पत्नी सब लोग से मिलते है, और गरबा-रास नाचते है. वहा खाना-पीना भी होता है, लेकिन मुझे सिर्फ नाचने में दिलचस्पी होती है. आने के बाद में पहले नाचना चाहती हूँ, लेकिन माँ मुझे पहले खिलाती है, और उसके बाद मैं मुझे नाचने देती हूँ. मुझे गरबा कि सिर्फ एक चीज़ नहीं पसंद. नाचने के बाद मेरे पेरो में बहुत दर्द होता है. अगले सुबह मैं चल नहीं सकती. तब मैं सोचती हूँ कि अगली बार में इतने जोर से नहीं नाचूँगी!

मेरा मन पसंद भारतीय नाच

मेरा मन पसंद भारतीय नाच रास-गरबा है। रास गरबा गुजरात का हैं. रास गरबा मेरा मन पसंद नाच है क्योंकि यह मेरा राज्य का नाच है। जब मैं छोटा था, मेरा परिवार और मैं हर 'नवरात्री' में गरबा गाने, और नाच ने जाते थे। नवरात्री में, गुजरात के लोगो नौ दिनों के लिए रास और गरबा करते हैं. नवरात्री, दिवाली के पहली आती हैं. रास गरबा में बहुत सारे गाने, और म्युज़िक होता है। गाने का रंग बहुत ही अलग होता है, क्योंकि जेसा गाने का राग हो, वेसे सब लोग नाचेंगे। मुझे रास के गाने में ज्यादा पसंद हैं क्योंकि मुझे उस में बहुत ही शोक है। मैंने कोई क्लास नहीं किये, और किसी के साथ सिखा भी नहीं। जब मुझे गरबा करना है, तो मैं सब के साथ करने लगता हूँ। मैंने कोई टीम के साथ भी कुछ किया नहीं। मेरा शोक बचपन से शुरू हुआ। और अभी मेरा शोक बढ़ने लगा क्योंकि मुझे म्यूजिक में बहुत ही शोक आया। फिर भी, यहाँ युनिवेर्सिटी में मैं डंडिया धमाका नाच प्रतियोगिता मैं एक आयोजक हूँ, तो मेरा शोक भी बढ़ने लगा. मुझे ढोल और ढोलक बजाना आता हैं, तो गरबा सुनकर, देखकर, और करके मैं अभ्यास भी कर सकता हूँ. गरबा में हम बहुत सारे कपडे पहन सकते हैं। कपडे मैं बहुत रंग और फैशन भी होता हैं.

मेरा मनपसंद लोक नाच (सतिश मोहन)

मेरा बचपन से मुझे नाचने बहुत पसंद है. मैं ने बॉलीवुड में अभिनेते, स्कूल में दोस्ते, और शो में नर्त्किये सब लोग देखाता था. उन लोग देखकर मैं सोचता था, "मैं भी उन की तरह नाचूँगा." दीरे दीरे, मैं और मेरा ने भाई भरतनाट्यम और अमेरिका का नाचना सीखे. हम ने बहुत मेला और समारोह में नाचे. लेकिन, नाचना सीखना का बात आसान नहीं है. हर दिन, स्कूल के बाद, हमारे माँ ने मैं और मेरा भाई से नचवाते थे. हम ने हमेशा अगर मगर करता थे. लेकिन, अब हम दोनों हमारे माता-पिता को बहुत आभार देते हैं.

मैं ने बहुत नृत्य देखा और नचा था, लेकिन मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच गाँव का मेला का नाच है. यह मुझे अच्छा लगता है क्योंकि सब लोग बहुत खुश होता हैं. कोई नहीं आलोचती; सब ख़ुशी और संतुष्ट होते हैं. जब भी एक परिवार में बच्चा पैदा होता है, तब पूरा गाँव मनाते हैं. गाँव का नाचने वालियां बहुत रंग का कपडे पहनते हैं और नाचकर, गाते हैं. गाँव का नाच में बहुत नियम नहीं हैं, तो सब लोग नाच सकता हैं.

जब मैं भारत में कम करता हूँ, तब गाँव का नाचने चाहता हूँ.

पसंदीदा नाच

मेरा पसंदीदा लोक नाच भंगरा है. यह लोक नाच मुझे सब्सी अच्छी लगती है कयोंकी इसमें बहुत रंग है और बहुत मजेदार गाने. भंगरा गाने बहुत मस्ती और नाचने वाली है. सबको थोड़ा भंगरा आता है कयोंकी वह सिकाने के लिए आसान है. इसलिए भंगरा पसंद करती हूँ क्योँकी जब सब नाचते है थो और मजा आता है. भंगरा में बहुत जोश से सब नाचते है और हमेशा मुस्काते है. और कोम्पेतितिओन्स में भंगरा करने वाले स्तुन्ट्स करते है जो लोगों को बहुत पसंद है. भंगरा में बहुत प्रोप्स का इस्थामाल होता है और ये प्रोप्स और भी रंग और चमक देते है. में भंगरा नहीं कर सकती पर थोड़ा बहुत सीखी मेरे पूंजाबी दोस्तों से कयोंकी भंगरा पुनजब का लोक नाच है और पूंजाबी लोग अच्छा भंगरा कर पाते है. इस नाच में अक्सर एक पैर पर नाचते है और हाथों को ऊपर नीचे करते है ढोल के साथ. काफी आसान है थोड़ा भंगरा कर ने को पर बहुत कठिन भंगरा अक्सर पंजाबी लोग ही करते है. 

मेरा मनपसंद लोक नाच

मेरा मनपसंद लोक नाच लावणी नाच है। लावणी एक मराठी नाच है। मुझे लावणी पसंद है क्योंकि एक लावणी नाच हमेशा एक कहानी जैसे होता है। लावणी हमेशा एक आशावादी गाना पर होता है। बहुत बार, इन गाने में एक गायक गाता है। लावणी एक खुश लोगों की नाच है - मैं ने कभी एक उदास लावणी गाना नहीं सुनी

मेरा पिता मराठी है, और इस लिए मुझको लावणी गाने पर नाचने में और ही मज़ा आती है। मेरी पिता की परिवार को भी अच्छा लगता है कि मैं मराठी गाने पर नाचती हूँ। मेरा पिता की परिवार लावणी गाने पर नाचते और गाते हैं।

मैं मराठी भी समाज सकती हूँ और शायद इस लिए मुझे लावणी और भी पसंद है। लावणी गाने की छोटी छोटी कहानियाँ बहुत मजेदार होते हैं।

नाचने के परिच्छदे भी कितने सुन्दर हैं। हमेशा उज्जवल रंग की होते हैं। परिच्छद बहुत अलग है - एक साडी की तरह पल्लू है लेकिन नीचे पेंट की तरह है। लावणी नाच में एक अच्छा घुंगरू की आवाज़ आता है।

मेरा मनपसंद लोक नाच लावणी है क्योंकि में अपनी परिवार के साथ नाच सकती हूँ और परिच्छदे बहुत सुन्दर हैं।

मेरा मुन्पसंद भारतीय लोक नाच

मेरा मुन्पसंद भारतीय लोक नाच रास है। मैं १२ साल के लिए भारतीय लोक नाच कर रही हूँ। मेरी शिक्षक रक्षा दावे था। रक्षा औंटी बहुत अच्छी शिक्षक था। उसको बहुत नाच सिकाया, गरबा, रास, ज्ञ्प्सी, टिम्पनी, माटली, और सूपदू। हर साल मैं और मेरी ग्रुप फोगना करते थे। हर साल फर्स्ट प्लेस जीता था। मेरी पसंदीदा नाच ज्ञ्प्सी था। यह साल हमारा कॉस्टूम नीला और हरा था। यह कॉस्टूम बहुत सुंदर था। यह साल हमे नशिनल पर गया था और फर्स्ट प्लेस भी जीता।
जब मैं कोल्लेज आयी मैं रास टीम किया। पहला साल हमारा टीम पर ६ नई टीम-मेट थे लेकिन हमे बहुत अच्छा किया था कोम्पय्तीशुं पर। पिछले साल हमे डंडिया धमाका और गरबा अत्तितूदे के साथ किया था। कोम्पीतीशुं पर बहुत मज़ा आयी लेकिन हमे नहीं जीते। इस साल हमारा टीम ८ नई टीम-मेम्बेर्स है, टीम का आधा! यह साल मैं टीम के लिए बहुत किया, मैं कोरियो किया, मैं लडकिया को तयार बनाया, और थोडा मके-उप लड़किया पर किया। इस साल हमे मर्य्लंद गया, अन्न अर्बोर में डंडिया धमाका गया था, और तीन हफ्ते के बाद मैं लोस अन्जलोस जा रही हूँ। मुझे रास पसंद है क्योंकि बहुत "अय्नेर्जी" है, और बहुत मज़ा आये। यह साल हमारा टीम २ प्लेस जीता डंडिया धमाका पर। यह "मोमेंट" मेरी पसंदीदा है इसलिए मुझे नाचना पसंद है।

घूमर नृत्य

घूमर नृत्य: यह भारतीयां नृत्य बहुत सुंदर है। यह बहुत शुभ अवसरों पर प्रदर्शन किया और महिलाओं ने प्रदर्शन किया है। नृत्य में, महिलाओं के परिधान लंबी स्कर्ट और शान से घुमाव। महिलाओं के आवर्तन के रूप में, उनके फूलों की तरह बाहर प्रशंसक स्कर्ट, नृत्य बहुत लुभावना बना। मैं पैटर्न और इस नृत्य में कपड़े के रंग प्यार करती हूँ, वे बहुत सुंदर और जटिल। जब मैं छोटी थी, मैं भारत में अपने पिता के साथ इस नृत्य देखा। मुझे लगता है कि मैं छह साल थी, तो मैं इसे अच्छी तरह से याद नहीं है, लेकिन मैं सोच रही याद है कि महिलाओं के प्रदर्शन बहुत सुंदर और सुरुचिपूर्ण थी, और सीखने कैसे नृत्य करने के लिए चाहती थी। मेरे पिता ने मुझे बताया कि इस नृत्य आसान उपाय है, बस एक लहराते गति है, लेकिन है कि संगीत के तेजी से हो जाता है। जब संगीत तेज है, जब महिलाओं की स्कर्ट बाहर प्रशंसक। मेरी पसंदीदा हिस्सा था! उन्होंने यह भी कहा है कि यह सबसे लोकप्रिय राजस्थानी नृत्य है, बल्कि सबसे खूबसूरत भी है। याद है कि मैने यह प्रदर्शन देखकर, उन कलाकारों में से एक की तरह लग रही थी, पहनना सुंदर स्कर्ट और आसपास घुमावना।

मेरा मन पसंद लोक नाच

मेरा मन पसंद लोक नाच गुजरात से है। बचपन से मैं रास करती हुँ क्योंकि मेरी माँ सीखा रही थी। मुझे भंगरा भी पसंद है लेकिन मुझे भंगरा के बारे में बहुत नहीं मालूम। मुझे रास देखना और नाचना बहुत पसंद है। कपडे बहुत सुन्दर है और नाचना से बहुत मज़ा आती है। मुझे अंग्रेजी का नाचना भी पसंद है और हाई स्कूल में मैं अंग्रेजी का नाचना का टीम में था। मैं बल्ले, हिप होप, और टैप करती थी। हर दिनों मैं दो गंटे के लिए नाची। हाई स्कूल में एक साल हमारा टीम डिस्नी वर्ल्ड गयी नाचना के लिए. फ्लोरिडा में बहुत मज़ा आयी क्योंकि हम पर्यटक के लिए नाचे। मै सोचती थी कि अगले साल मै मिशिगन रास टीम नाचना का कोशिश करुँगी. हमारे रास टीम में अपने सारा दोस्त है. इसलिए मै सोचती थी कि टीम में बहुत मज़ा आ सकूंगी. पिछले हफ्ते रास टीम ने डंडिया धमाका में प्रदर्शन किया और दूसरा प्लेस जीता. मुझे रास कोम्पेतिशन देखना बहुत पसंद है. मेरी बहन को भी नाचना पसंद है और बचपन से नाचती थी इसलिए वह बहुत अच्छा नर्तकी है. बचपन में मै और मेरी बहन साथ साथ नाचती थी. अगले गर्मियो में मुझे अपनी बहन की शादी में नाचना है.

मेरा पसंदीदा लोक नृत्य

मेरा पसंदीदा भारतीय लोक नृत्य रास है। मैं गुजरात से हूं और उस राज्य के राष्ट्रीय नृत्य है। मैं रास कर गया है जब से मैं लड़का था। मेरे माता पिता मुझे ले जाओ और मेरी बहन को हर साल न्व्रारती के दौरान। मैं अपने स्कूल में रास टीम में शामिल हो गए। हम सब देश के चारों ओर की प्रतियोगिताओं के लिए गया था। हम वाशिंगटन डीसी में एक प्रतियोगिता में प्रथम आया था। मुझे रास बहुत पसंद है क्योंकि यह बहुत ऊर्जावान रूप है। केवल अन्य नृत्य कि रास से तुलना भाग्न्रा है। भांगड़ा मेरी दूसरी पसंदीदा लोक नृत्य है। भांगड़ा पंजाब के राष्ट्रीय नृत्य है। मैं सच में कर मज़ा आ रहा है और भांगड़ा देख रहा है क्योंकि यह उत्तेजना से भरा है। मेरा रूममेट जसदीप मिशिगन में भांगड़ा यहाँ टीम पर है। हम अक्सर भांगड़ा जब हम घर पर हँगिंग आउट कर रहे हैं।

मेरा मन पसंद नाच

मेरा सुबसे मनपसंद भारतीय लोक नाच गरबा रास है। इस सप्ताहांत डांडिया धमाका था और मेरे दोस्त और मैं देखने गए। बहुत मजा आया और हम वापिस अगले साल जाएँगे। हर साल मेरे परिवार और मैं गरबा के लिए भारतीय टेम्पल जाते है। यश, मेरा भाई, और मैं गरबा और रास एक दुसरे के सात करते है। हमारे दोस्त भी हमारे सात गरबा करते है।
मुझे गाने सुबसे अच्छे लगते है। बहुत तेज़ी से नाच सकते है और बहुद्दे लोगो धीरे गाने पे नाच सकते है। सरे जन एके दुसरे के सात नाच सकते है और वक्त गुज़ार सकते है। जब हम एके दुसरे के सात नाचते है तो हम और अच्छे दोस्त बुन जाते है।
और सब लोगो अच्छे से कपडे सजाकर और गहने पहन के बाहर जाते है। सब जून आच्छे दिक्ते है और सब को अच्छे ख्याल में लगते है।
मुझे बॉलीवुड के नाच भी बहुत पसंद है। ऋतिक रोशन बहुत अच्छे से नाचता है और जो गाने में वहा नाचहा है बहुत अच्छे लगते है और उसको और गाने में नाचन चाहिए। बहुत सरे अच्छे नाचने वाले है बॉलीवुड में और वहा सुब हम तो कुश रकते है।

भांगड़ा

मेरे दोस्त पंजाब से है और मेरी दीदी और मैं उस से हमारे लिए भांगड़ा नचवाती हैं | वह अपने कंधे ही आगे-पीछे करता है पर हम फिर भी पूछती हैं |
मैं भारतीय लोक नाच के बारे में बहुत ज्यादा नहीं जानती लेकिन क्योंकि मेरी दोस्त अपने लिए नाच करता तो में भांगड़ा के बारे में थोड़ी सी जानती हूँ |
मैं भी जानती हूँ कि फिल्म "रब ने बना दी जोड़ी" नाच कि रूटीन के बीच में शाहरुख़ खान भांगड़ा नाचता था |

भांगड़ा पंजाब से है और बहुत जानदार नाच है | परंपरागत रूप से (traditionally) पंजाब में लोगों खेत काटने के बाद भांगड़ा नाचते हैं | आजकल भांगड़ा एक बहुत ख़ास नाच सभे धूमधाम के लिए है |
आजकल भांगड़ा एक बहुत लोकप्रिय नाच है और ज्यादा देशों में लोगों भांगड़ा के बारे में जानते हैं | परंपरागत रूप से आदमी भांगड़ा नाचते थे और औरतें गिद्दा नाचती थी लेकिन आज कभी कभी औरतें भांगड़ा भी नाचती हैं |

लोग ढोल बजाते हैं जब वे भांगड़ा नाचते थे | और कभी-कभी लोग बांसुरी भी बजाते हैं | जब आदमी भांगड़ा नाचते हैं तो वे चाद्र- कुरता पहनते हैं | औरतें रंगबिरंगी सलवार-कमीज़ पहनती हैं |

खाभी कभी मैं आशा करती हूँ कि में इतनी शर्मीली नहीं हूँ क्योंकि मुझे नाचने बहुत पसंद है | शायद मुझे मेरे दोस्त को पूछूँ कि मैं भांगड़ा पढ़ाना पड़ता है |

मेरे मनपसंद भारतीय लोक नाच

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच पुनजब राज्य से है. मुझे भंगरा नाचने बहुत पसंद है और मुझे पंजाबी संस्कृति भी बहुत पसंद है. तीन साल पहले मैं भारत गयी थी और चंदिघर और जालंदर देखने गयी थी. पुनजब बहुत खुश राज्य है. सरे लोग चुटकुले कह रहे थे और स्वादिष्ट खाने खाते थे. भंगरा गाने में ढोल बजते है और बासुरी भी बजते है. जब लड़के भांगड़ा कर रहे हैं, तब लड़कों एक बनियान, कुरता, लुंगी, और पुघ पेहेनते है. जब लड़कियां भंगरा कर रहे है, तब वे एक पटियाला शलवार, कमीज़, और चुन्नी पेहेनते है. मैं दो साल IASA भंगरा में नाचती थी और मुझे बहुत मजाक आया. शरुरत में खेत वाले आदमी वैशाकी मानाने के लिए नाचते और महिलाओ की अनुमति नहीं थी लेकिन अब सब लोग ख़ुशी में नाचते है. बहुत बॉलीवुड फिल्में में भंगरा देख सकते है. अभिनेता और अभिनेत्री पंजाबी लोग के जैसे नाचते और बोलते है इसलिए बहुत लोग पंजाबी संस्कृति से रूचि है. अमेरिका का युवान लोगों भी भंगरा और पंजाबी संकृति से बहुत रूचि रखते है. उदाहरण में उनिवेर्सित्य ऑफ़ मिचिगन में दो भंगरा टेंस है और दोनों सारे देश प्रतियोगिता के लिए यात्रा करते है.

Not getting mail

Kimi Patel and Niharika Shastri

monica and ankit go to the post office

We go to the post office

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच भंगरा है। भंगरा बहुत अच्छा लोक नाच है क्योंकि वह आशावादी है। मेरे माता-पिता पंजाब से हैं तो हम आधिक पंजाबी और भंगरा गाने सुनते हैं। मेरा पिताजी और माताजी अच्छा भंगरा नाचते हैं और मैं भी नाचता हूँ। शादी का समय भंगरा नाचना के लिए बहुत अच्छा मौका है। जब मेरी माताजी छोटी थी, वे भंगरा टीम नाची थी। बे बहुत अच्छा भंगरा की। मैं भंगरा देखना पसंद है और पिछले तीन साल तक "भंगरा फुसिओं" जा रहा हूँ। भंगरा का अवस्था अनुपम है। मैं सोच रहा हूँ कि शायद मैं मिशिगन भंगरा टीम "त्रय आउट" करूँगा। भंगरा मजा भी है क्योंकि कुशी और गौरवान्वित नाच है। जब मैं नाच रहा हूँ, तो मैं कुशी हूँ।

भंगरा गाने
मंद अर्थ है। मेरा मनपसंद गवैये गुरदास मान, "जज्जी बी," "मिस पूजा," मलकीत सिंह, सुख्शिंदर शिंदा, लह्म्बेर हुस्सैन्पुरी, और अमृत साब। यह गवैये के आवाज़ बहुत अनुकुल हैं। मेरे फुर्सत में, मैं नयी भंगरा गाने तलाश करता हूँ और कुछ गाने सुनना पसंद है। मुझे वे ल्य्रिक्स बहुत पसंद है। मैं चाहता हूँ कि यह गवैये राग जल्दी करेगे। राग में इतना आछा समय है और मैं अपना ममेरा भाई के साथ हमेशा वहां जाते हैं।

Tuesday, 2 February 2010

मेरा मन पसंद भारतीय लोक नाच

मुझे नाचने का बहुत शौक है। जब में ग्यारह साल की थी तो मेरी बड़ी बहन ने मुझे एक बॉलीवुड डांस सकाया ता। उसी समय से मुझे डांसिंग से प्यार होगया। हर साल मै अलग अलग तरीके के बॉलीवुड डांस करती हूँ लोगों के पार्टियों मे और खुद की पार्टियों मे। बचपन से ही मैंने बहुत हिंदी फिल्में देखि हैं। इन फिल्मों के वजा से मुझे बॉलीवुड डांस बहुत पसंद है। बॉलीवुड नाच के इलावा मुझे गरबा और रास पसंद है। मै गुजरती नहीं हूँ फिर भी मुझे रास और गरबा पसंद है क्योंकि इन नाचों मै अलग तरीके से नाचना परता है। जैसे की रास मै लोग डंडिया के संग खेलते हैं। जब मै छोटी थी तो मेरी माँ और पिता जी मुझे नवरात्री के दिनों मे मंदिर ले जाया करते थे। मुझे बहुत मज्जा आता था एक बारे घोल मै नाचना और सब के साथ। जब मैंने पहली बार डंडियों से खेला था तो मुझे बहुत चोट लगी थी क्योंकि डंडिया की नूक बार बार मेरा हाथ से तक रहा री थी। समय के साथ मुझे रास पसंद आने लगा और आब मुझे रास के गानों पर नाचने मे बहुत मज्जा आता है। रास मे औरतें रंगीन कपड़े पहन ती हैं और सुन्दर सुन्दर गहने भी पहन ती हैं. मुझे भंगरा देखने मे अच्छा लगता है किन्तु करने मे मुश्किल लगता है। नाचने से मुझे बहुत ख़ुशी मिलती है। मुझे ऐसा लगता है की मै बदल मे उड़ रही हूँ।

मेरा मन पसंद भारतीय लोक नाच

मेरा बचपन से, मैं खूब नाचती थी। जब मैं बहुत छोटी थी, मैं दुर्गा और सरस्वती पूजा के लिए बंगाली नाच करती थी। लेकिन बंगाली नाच मेरा मन पसंद भारतीय लोक नाच नहीं है - वह बिलकुल भरतनाट्यम है। तेरह साल के लिए मैं भरतनाट्यम सीखती थी। भरतनाट्यम भारत का दक्षिण राज्य से है और लोग अक्सर मंदिर में नाचते थे। परंपरा सबसे ख़ास है इस नृत्य में। भरतनाट्यम में, नर्तक उसकी आखें, उसके हाथ, और उसके पैर उपयोग करते है कहानी को सुनाने के लिए। मैं भारतीय संस्कृति के बारे में सीखती थी क्योंकि सब कहानियां हिंदुत्व का महाकाव्य से थे।

तेरह साल के बाद, जब मेरी उम्र सत्रह साल थी, मैंने एक बड़ा प्रदर्शन किया - मेरी अरंगेत्रम। अरंगेत्रम के लिए, मैंने एक साल रियाज़ किया क्योंकि मुझे दो-तीन घंटे नाचने हुआ। उनिवेर्सित्य जाने के बाद, मुझे नृत्य की क्लास नहीं जाना पड़ा क्योंकि मेरी गुरु बहुत दूर रहती हैं । लेकिन उनिवेर्सित्य में मैंने नाचने नहीं रोकी। अभी मैं "माया डांस टीम" के साथ नाचती हूँ। सब लड़कियां जो माया के साथ नाचती है भारतीय नृत्य सीखते थे क्योंकि माया का नाच बहुत भरतनाट्यम का "स्टेप" उपयोग करते हैं। मैं भरतनाट्यम कभी नहीं भूलूंगी और मेरी आशा है की आइन्दा मैं और भारतीय लोक नाच सीखू ।

- नीना

Akhil and Nina's Post Office Skit

Akhil and Nina's Post Office Skit

मेरी मनपसंद भारतीया लोक नाच

जब से मै छोटी थी मै बहुत ज़ादा नाचती थी। मैने दो साल से बल्लेट सिकना शरू किया और तीन साल से भरतनाट्यम सिका। मुझे अब तक सब भारतीया लोक नाच पसंद हेँ। मेरा मनपसंद शास्त्रीय नृत्य हेँ भरतनाट्यम। यह मेरा मनपसंद नृत्य हेँ कयोंकि इस में दोनों हाथ और पैर इस्तमाल होते हेँ। यह नृत्य मुझे पसंद हेँ कयोंकि इस में चेहरे की अभिव्यक्ति देख सकते हो। इस नृत्य से आलंग आलंग कहानिया भी बता सकते हो। इन वजह से भरतनाट्यम मेरी मनपसंद शास्त्रीय नृत्य हेँ।
मेरा मनपसंद लोक नाच हेँ गरबा। मुझे यह लोक नाच पसंद हेँ कयोंकि सब लोग यह नाच कर सकते हेँ। मैने देखा हेँ मंदिर में छोटे बच्चे जो गरबा करते हेँ और बुड़ें लोग भी वाही नाच करतेवे। यह नाच मुझे पसंद हेँ कयोंकि यह नाच होता हेँ जब सब त्यौहार होते हेँ। और मुझे इस लोक नाच का गाने बहुत पसंद आते हेँ जेसे धोले बझे। यह गाने बहुत धूम मचलने वाले गाने होते हेँ। जो कपड़े पहने जाते हेँ गरबा के लिए बहुत सुन्दर होते हेँ। यह कपड़े बहुत रंग-बी-रंग होते हेँ। इन सब कारण से मुझे गरबा पसंद हेँ।

मेरा मनपसंद भारतीय लोक नाच

मुझे नाचने का शौक बचपन से है। जब मैँ तीन या चार साल कि थी, मेरी मामी ने मुझे हिंदी गाने पर एक नाच सिकाया और मैँ दिवाली पार्टी में स्टेज पर एस गाने पर नाची। उस दिन ले कर आज तक मुझे अपने आप और दूसरों के लिए नाचना पसंद करती हूँ।
मेरे माँ - बाप राजस्थान से हैं, लेकिन मुझे घुमर नहीं आता, लेकिन मुझे भंगरा, रास, और बॉलीवुड नाच पसंद हैं। अभी मैँ बहुत भंगरा करती हूँ क्योंकि मैँ भंगरा टीम पर हूँ। भंगरा के लिए बहुत उर्जा चाहिए और पैरों को बहुत ऊँचे लाने पड़ते हैं। और भंगरा में तीन तरफ के आधारीय स्टेप्स हैं - हम ये तीन स्टेप्स को तोडा सा बदलकर गाने पर नाचते हैं। क्योंकि मेरा टीम बहुत ही आधुनिक है, हम बहुत कुछ बदलते हैं और नए - नए स्टेप्स डालते हैं। आज कल लडकियाँ भी भंगरा करती हैं, लेकिन पुराने ज़माने में (प्राचीन और क्रमागत भंगरा) लडकियाँ भंगरा नहीं करती थी, सिर्फ लड़के करते थे। अभी भी भंगरा में कई चीज़े अनुचित हैं। जैसे लडकियाँ अपने जांघों को मार नहीं सकती और वे लड़कों के कांधों पर खड़ीं नहीं हो सकतीं। भंगरा में लड़कियों को लड़कों के जैसे नाचना पड़ता है।