Monday, 30 November 2009

थान्क्स्गिविंग

बुधवार को मेरे माता-पिता अन्न अर्बोर आया क्योंकि मैं और मेरी बहन के साथ दिननेर खाना के लिए आए। गुरूवार को मैं परिवार के साथ घर नही गई क्योंकि दोस्त की शादी के लिए हुम्हे ट्रॉय जाना पड़ा। शादी बहुत मज़ेदार था। गुरूवार रात को सभी औरते हाथ मैं मेंधी लगी और मेंधी के बाद बहुत अच्छा खाया क्योंकि पंजाबी शादी थी और पंजाबी खाना मेरा मन पसंद खाना है। शुर्क्रवार चार बजे तक सुबह से मैं ब्लैक फ्रिदय शोप्पिंग के लिए उटी और उटने के बाद मैं माल मैं गई। माल में में बहुत अच्छा कोट मिली लेकिन थोड़ी सा महेंगा है। शौपिंग के बाद हम होटल जानकर सोया और दस बजे हुए और भारत के लिए नाचना गया। जब दस बजे तीन बजे तक शादी हुए और च गयी। अप्प मेंनाची। और के बाद मैं होटल जाकर सोया। शादी मैं होटल जाकर सोया। शादी में दुल्हन का कपड़ा बहुत भारी और सुंदार या। सभी कमरे में और कुर्सिया पर फूल थामें अन्न अर्बोर वापस आई और साफ़ कियासाफ़ कोरने के बाद मै बहुत सोयी और सोने के बाद पदी

थान्क्स्गिविंग का छूती

यह छूटी में मैं चाचा और चची का घर गयी थी। वहा मेरी परिवार ने आया। साथ बजे हमेने डिन्नर खाये। डिन्नर के लिए हमे डोसा और इडली खाये। डिन्नर के बाद तिरामिसू और पुम्प्किन पाई खाये। शुक्रवार को मेरी परिवार अपने घर पार्टी था। सुबह में मैंने मेरी माँ के साथ-साथ खाना पकाया। मेरी माँ भेल बनाया और पानी-पूरी। मेरी माँ यह खाना बनाया क्योंकि मेरी वह खाना मेरी पसंदीदा है। रथ को डिन्नर के बाद मेरी परिवार के साथ-साथ खेलना खेलाहमे स्पूंस खेला।

थान्क्स्गिविंग का chooti

थेंक्सगिविंग के बारे में

अभी अभी सब छात्रों छुट्टी से वापस एन आर्बर आगए हैं। यह छुट्टी थेंक्सगिविंग के वजाह थी। थेंक्सगिविंग एक अमेरिकां होलीडे है। इस होलीडे पर सब अम्रिकां लोगो परिवार के साथ एक बड़ा खाना खाते है। यह होलीडे बहुत पुरानी है। यह जब, अमरीका में इंग्लॅण्ड से लोग आने लगे। वोह "पिल्ग्रिम्स" और यहाँ के नेटिव अम्रिकान्स ने सब एक होकर बड़ा उत्सव रखा। सब लोगो ने अलग अलग चीज़े लाकार एक बड़ा भोजन किया। और उसके बार, सब लोगो यहाँ थेंक्सगिविंग मनाते है। थेंक्सगिविंग हमेशा नवम्बर का चोथा गुरुवार पर होता हैं। सब छात्रों को छुट्टी मिलती है। थेंक्सगिविंग मेरे लिए कुछ ख़ास नही है। यह दिनों पर में सिर्फ़ घर जाता हूँ और परिवार के साथ समय बिताता हूँ, आराम करता हूँ, नोकरी पर कुछ काम करता हूँ, और फिर मैं दूकान में शौपिंग करने के लिए जाता हूँ। थेंक्सगिविंग के दुसरे दिन होता है "ब्लैक फ्रिदय"। इस दिन पर सब चीज़े सस्ते सस्ते होते हैं। तो लोग स्टोर पे एक बड़ी पंक्ति बनाते हैं, और फिर बहुत हंगामा भी हो सकता हैं!

मेरी थान्क्स्गिविंग (अखिल)

थान्क्स्गिविंग एक उच्छा अवकाश है । थान्क्स्गिविंग नवम्बर का चौथे गुरुवार में है । हर स्चूल्स और विश्वविद्यालय के दौरान छ्ट्टिया हैं । थान्क्स्गिविंग एक अमरीकी अवकाश है, थो अन्य देशों नही मनाते हैंहर साल थान्क्स्गिविंग में मेरा पुरिवर के साथ रहता था, और मेरे माथा-पिता और छोटी बहन के साथ थान्क्स्गिविंग जश्न मानता था । लेकिन मेरा पुरिवर पेन्न्स्यल्वानिया में हैं, और में यहाँ, मिचिगन, में हूँ । इसलिए मैँ अभी मेरा चचेरा का घर, वेस्ट ब्लूम्फ़िएल्द में, थान्क्स्गिविंग की ब्रेक में जाता हूँ । इस साल मैँ मेरा चचेरे, जय और विजय, के साथ रहता था । हम एक उच्छा हिन्दुस्तानी रेस्तौरे को गये , हाउस ऑफ़ इंडिया, फर्मिन्ग्तों हिल्स में । मैँ मटटर पनीर खाया, नान के साथ, और में चावल भी खाया । उनके साथ मैँ एक बहुत उच्छा आम की लस्सी पिया । थान्क्स्गिविंग के बाद मैँ "कला शुक्रवार" में नए कपड़े ख़रीदा । मैँ इस थान्क्स्गिविंग में बहुत मज़ा आया ।

Sunday, 29 November 2009

मेरा थान्क्स्गिविंग

हर साल नवम्बर महिना में, मैं और मेरा परिवार थान्क्स्गिविंग मानते है। मेरा पिताजी कि परिवार के साथ हम ब्रेअक्फ़स्त खाते है और मेरी माँ कि परिवार के साथ दिननेर खाते है। सब लोग वेगितारियन है इसलिए हम लोग तुर्की नहीं खाते है। मेरे पिताजी कि परिवार के साथ हिन्दुस्तानी खाने खाते है। मेरी फूफी और माँ ने पानी पुरी और भेल पकाया और मैं और मेरी बहिन ने गुलाब जामुन और आम कि लस्सी बनाया। मेरे माँ कि परिवार के साथ हम अमेरिकां खाने खाते है. मैं और मेरी मौसी लासनिया पकाई और मेरी मामी ने गार्लिक बरेअद और सलाद बनाया। मेरी दो चोट्टी बहिनों ने पुम्प्किन और पेकां पीय पकाया। खाने के बाद मैं सब लोग बसेमेंट मैं बैठकर दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे देखा।

थेंक्सगिविंग

थेंक्सगिविंग पर अक्सर मेरा परिवार घर रहता हैं और हम अच्छा थान्क्स्गिविंग का खाना खाता हैं। इस साल थेंक्सगिविंग अलग नहीं था। बुधवार को मेरा परिवार और मेरी दादी एक रेस्तोरां गए। उस दिन भी मैंने मेरे माता-पिता के साथ एक फिल्म देखी। थेंक्सगिविंग पर घर में हमने थेंक्सगिविंग का खाना खाए: टर्की, मैशट आलू, "मीठा आलू", वगै़रह। खाना बहुत मज़ेदार था लेकिन यह बहुत नहीं था। मेरी माता ने खाना बनाया और मेरे पिता ने टर्की की तापमान की देख-भाल की। मिठाई के लिए हमने अच्छा पम्पकिन पाई खाया। डिनर के बाद मेरी माता ने कुछ खाना मेरे मौसी को दिया। बाद में हमने एक बोर्ड खेल खेले। अगले दिन मैंने अधिक टर्की खाए! थेंक्सगिविंग पर भी मेरे पिता , मेरा भाई, और मैं ने फुटबॉल देखा और वीकेंड को हमने कुछ अधिक फुटबॉल देखा। मेरी माता को फुटबॉल का देखना नहीं अच्छा लगता है, लेकिन मैं सोचता हूँ कि थेंक्सगिविंग पर उनके लिए फुटबॉल बहुत बुरा नहीं है। उस लंबे वीकेंड पर मेरा परिवार साथ साथ अच्छा समय बिताया।

मेरा थान्क्स्गिविंग

मेरे लिए, थान्क्स्गिविंग का मतलब बहुत ही सुंदर है। इस होलीडे में, परिवार और दोस्त साथ-साथ समय बिताते हैं । बहुत स्वादिष्ट खाने हैं लेकिन खाने सब से ख़ास चीज़ें नहीं हैं । अमेरिका में, मेरा खूब कम परिवार है - सब लोग भारत में रहते हैं । लेकिन, अन्न अर्बोर में, हमारे सब बंगाली दोस्त हैं। वे सब मेरे परिवार हैं यहाँ क्योंकि उन्हें मेरा बचपन और सारा जीवन देखा। इस साल, थान्क्गिविंग हमारे घर में था और बहुत मज़ा आया। हमने अमेरिका का खाना और देश का खाना खायाखाने के बाद, मैं थोड़ा बीमार थी, लेकिन दो-तीन घंटे के बाद, सब ठीक हो गया!

मैं बहुत शुक्रगुजार हूँ की मेरे साथ खूब प्यारे लोग हैं।

- नीना
थैंक्स-गिविंग
इस बार थैंक्स-गिविंग में मैंने अपने परिवार के साथ वक्त गुज़ारा। मेरे पाँच साल के भाई का जन्मदिन था। हम लोग बाहर खाना खाने "चुक्क-ई-चीज़" गए थे। उसके मैंने अपने परिवार के साथ मिला-मिलाई की और हम ने बहुत मज़ा किया। मेरे भाई के जन्मदिन के बाद मैं अपने दोस्तों के साथ कैसिनो में जूखेलने गया था। मैं बीस डालर जीता। मैंने अपने नानी के साथ भी वक्त गुज़ारा क्यों की उनकी तबियत बहुत ख़राब चल रही थी। मैंने अपनी छोटी बहन के साथ फिल्म भी देखि। मैंने ऐन अर्बोर में रविवार की सुबह उड़ान भरी। तब से मैं पुस्तकालय में पढ़ रहां हूँ। मुझे अच्छा नही लग रहा है। मुझे घर वापस जाना है।

थान्क्स्गिविंग का छुट्टी

इस थान्क्स्गिविंग का छुट्टी को बहुत चीज़े मैंने किया। छुट्टी से पहले मुझे पता है की मुझे पढने और लिखने का काम बहुत ज़्यादा है, लेकिन मजा होना भी चाहता था। पहले दिन, मैं अपना दोस्त का घर गया क्योंकि मेरा घर में कोई नहीं है। दोस्त का घर पर, हम ने खाना खाए, 'पूल' और कैरम खेले, और एक फ़िल्म देखे। खाना बहुत स्वादिष्ट था और हम ने अपने पेट पूरी में खाना डाला। फ़िल्म भी अच्छी थी और हम ने बहुत हस्से। फ़िल्म के बाद, सिर्फ़ २:३० बजे हम सोये। अगले सुबह में, हम जल्दी उठे खरीदारी माल जाने के लिए। मैं ने मेरे लिए और छोटा भाई के लिए कपड़े ख़रीदा। फ़िर हम ने जूते ख़रीदे "कोहल'स" में। रास्ता पर बहुत लोग था, तो गाड़ी चलाने बूथ मुश्किल था। तीसरे दिन, मैं ने दुसरे दोस्तों के साथ "बास्केटबाल" खेला दो-तीन गंटे के लिए। हर साल हम लोग मिले। बाकि छुट्टी में, मैंने पढ़ा और ग्रहकार्य ख़तम किया। लेकिन अभी मुझे डर आती है क्योंकि मुझे नहीं पता की पूरा काम ख़त्म करूँगा।

मेरा थान्क्स्गिविंग

थान्क्स्गिविंग सप्ताहांत है तीन दिन खुशी मनाने का एक समय। बुधवार सभी घर लोटते है और सब दोस्तों के साथ बहार क्लुबो मे जाते है। गुरुवार पुरा परिवार मिलता है और थान्क्स्गिविंग खाना खाते है। इस के बाद सब साथ साथ टी वि पर फूत्बल्ल या फ़िल्म देखते है। शुक्रवार सब सुबह जल्दी उठाते है और बहार दुकानों मे सरे दिन खरीदारी करने जाते है।

हर थान्क्स्गिविंग का गुरुवार पर हम सब दोस्तों मिल कर फूत्बल्ल का एक मैच खेलते है। खेल के बाद सभी एक दोस्त के घर जा कर थान्क्स्गिविंग भोजन करते है।

इस थान्क्स्गिविंग मे कुछ कर नही सका। बुधवार मै नोवी का एक क्लब मे गया। वहा बहुत पुराने दोस्तों मिले। वे सब दुसरे शरेरो से वापिस आए थे। गुरुवार और शुक्रवार मुझ को काम पर जाना पड़ा। जब मुझे कुछ छूट समय मिला तब मै जिम मे कसरत करने गया, हिन्दी पदने की कोशिश की, और अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताया। हम मांस नही कहते इस लिए हमने थान्क्स्गिविंग भोजन के लिए कुछ खास नही किया।

मेरे परिवार के साथ "थान्क्स्गिविंग"

थान्क्स्गिविंग की छुट्टी में लोग अपने परिवार के साथ समय बिताते है और अच्छा खाना खाते है। थान्क्स्गिविंग छुट्टी पर मैं अपनी बुआ के घर गई थी। मेरे माता-पिता वहा थे, और मेरी बड़ी बहन भी आई। साथ साथ हमको बहुत मज़ा आया। बुधवार को मैं घर गई. हमने रात के खाने में सुब्जी, रोटी, चावल, और दाल खाया। अपनी माँ के हाथ से खाना वापस खाकर बहुत अच्छा लगा। रात को हम ने फ़िल्म देखी, रब ने बना दी जोड़ी। वह मज़ेदार थी। गुरूवार को सुबह में मैं मन्दिर गई. उसके बाद मैं और बहन ने बहुत समय के लिए बात की। मैं ने उससे एक महीने से नही देखा। उसके बाद हमने अपनी माता और बुआ की मदद की। हमने खाना बनने में हाथ बताया । मैं ने मिर्ची को छोटे छोटे टुकड़े किए, और बहन ने काबुली चने को मसलकर भाप में पकाया। उसके बाद हम ने पनीर और रोटी के साथ मेक्सिकां खाने बनाया। बहुत अच्छा लगा, और हम सब ने ज़्यादा खाया। मिठाई में हम ने पाई खाया। शुक्रवार को मैं, बुआ और बहन सुबह से उटकर खरीदारी करने गए थे। मैं ने बहुत कपड़े ख़रीदे। दोपर के लिए मैं ने थाई खाना खाया ठीक था, लेकिन मूझे थाई खाने बहुत नहीं पसंद। रात में हम पिज्जा खाने के लिया बहार गए, "buddy's pizza" में। वहा मिशिगन का सबसे अच्छा पिज्जा मिलता है। शनिवार को हम ने भारत फ़ोन किया, अपने परिवार को। वहा सब ठीक है। आज रविवार को मैं और बहन अपना घर वापस गई। दोपर के लिया बुआ ने फालाफेल बनाया। बहुत स्वादिष्ट लगा। मेरी थान्क्स्गिविंग की छुट्टी बहुत अच्छी थी, लेकिन शायद मैं ने ज़्यादा खा लिया!

मेरा बहुत अच्छा थान्क्स्गिविंग

थान्क्स्गिविंग एक होलीडे है जिस में परिवार साथ साथ आती हैँ, और एक दूसरे से बात-चित करते हैँ बहुत समय के बाद। इस समय बहुत तरह का खाना होता हैँ। अपना परिवार के साथ समय बिताने का होलीडे है।

मेरी परिवार जो अमरीका में है बस मेरी माँ, बाप, और बहन है, तो हम लोग कोई बड़ी तरीका से थान्क्स्गिविंग नहीँ मानाते। लेकिन इस साल हम लोग ने एक बालविहार थान्क्स्गिविंग में गे, जा पर हामारे बहुत दोस्त थे। वहा पर करीब चार-सौ लोग थे। यह अन्न अर्बोर में हुआ था। जो खाना था वहा पर बहुत अलग तरीका का था। दोनों अम्रीका और हिन्दुस्तानी खाना का स्टाइल लिया। वहा पर डोसा मिल रहा था क्रेन्बेर्री छुटने के सात। भूता बना वा वाडा भी था। क्धू का हलवा भी मिल रहा था। वहा बहुत खाना था। मुझे बहुत अच्छा लगा।

यह थान्क्स्गिविंग ब्रेक मुझे बहुत अच्छा लगा क्योँकि मैँ अपने परिवार के सात समय बिता पाई और अच्छा खाना भी बहुत खाया। यह थान्क्स्गिविंग बहुत मज़ेदार था।

मेरा थान्क्स्गिविंग

हर साल नवम्बर के महीने में थान्क्स्गिविंग मनाते हैं। यह तेवहार हर साल फसल काटने पर मनाया जाता है। कई साल पहले अंग्रेजों ने पहली बार अमेरिका में फसल उगाई तो ईस्ट इन्दिंस ने उनकी काफ़ी मदद की। फसल कटने पर अंग्रेजों ने एक बड़ी पार्टी की। जिसमे उन्हों ने ईस्ट इन्दिंस को धन्यवाद किया।
मैंने थान्क्स्गिविंग अपने परिवार के साथ मनाया। तुर्की, आलू, मत्तार, रोल्स, पुम्प्किन पाई, और बहुत सारे दूसरे खाने हमने खाए। टीवी पर फूत्बल्ल मैच भी देखा। हमने गरीबों को भी खाना खिलाया। थान्क्स्गिविंग में सभी को गरीबों को खाना खिलाना चाहिए और उनकी मदद करनी चाहिए।

Friday, 27 November 2009

परिवार और खाना

मेरी "thankgiving" बहुत अच्छी लगी । मेरी दीदी औद्री यूनिवेर्सिटी से वापस आई। वः रविवार शाम को पहुंची और उसने मुझे कहा कि मुझे बुधवार कि क्लास "स्किप" करना चाहिए । मेरी दीदी ग्रेस और मैं मंगलवार शाम को अपना घर में पहुँची । मंगलवार शाम को मैंने कुछ नहीं किया ।
गुरूवार सवेरे-सवेरे मेरी माँ उठकर "तुर्की" भूनने लगा है । तुर्की पकानी में पाँच घंटे लगता है । हर साल मेरी माँ तुर्की भूनती और "स्तुफ्फिंग" बनाती है। मेरी भाई आलू पकाता और "चीज़ केक" सकता है । अक्सर मैं फूल सलाद बनाती हूँ , लेकिन यह साल ग्रेस ने फल सलाद बनाया । हर साल हमारा पिरवार बहुत किस्म कि "पाईस" सकते हैं । एक बार हमने बारह किस्म कि "पैस" सेके । गुरूवार हमने सात ही किस्म की "पाइस" सेके ।
"thanksgiving" का खाना के लिए चार दोस्तों ने आया हमने कुछ ख़ास नहीं किया सिर्फ साथ-साथ खाना पकाए और उसके बाद खाना खाए । दिन-भर हमने बहस किया लेकिन क्रोध से बहस नहीं किया ।
हर साल मैं बहुत ज्यादा खाती हूँ क्यों कि खाना बहुत बहुत अच्छा लगता है ।
मेरी दादी बहुत बहुत बूढी है । दादी बीमार भी है । बुधवार दादी को जुकाम-खांसी लगा लेकिन दादी को मेहमान चाहिए । इस के लिए हमने दादी की देखभाल किया । दादी बहुत बहुत पतली थी लेकिन मानसिक बहुत आछी लगी । दादी ने तीन घंटे के लिए बात किया और जुटा हुई । इस के लिए मैं बहुत खुशी हुई ।
गुरूवार शाम को मेरी फूफी-फूफा और उनकी बेटी आए उनकी बेटी रही । वह हमारी साथ रविवार तुक रहेगी ।
आज सवेरे को औद्री चला गयी । कल हमारा दोस्त चला जाएगा और रिविवार मेरी दीदी और मैं चला जाएंगी । छुट्टी बहुत तेज़ ही चल रही है ।
आज मैंने कौन-कौन क्लास अगले समेस्टर लेने का निश्चय किया । मेरी माँ ने कहा कि "तुम सारे "अन्थ्रोपलोजी" कि क्लास लेती हो" शायद माँ चाहती है कि मैं विज्ञान क्लास मेरी बेहेनें जैसी लूँ । लेकिन मेरी दिल विज्ञान में नहीं लगती है ।
मेरी लिए "thanksgiving" का मतलब परिवार है । दोस्तों के लिए भी लेकिन अधिकतर परिवार के लिए है। हर साल मैं आधिक शुक्रगुजार मेरा परिवार के लिए हूँ । मेरे सबसे अच्छे भाई-बेहें हैं और सबसी अच्छी माँ है । मुझे बड़ी पार्टियां नहीं अच्छी लगती है । मैं बिल्कुल खुशी हूँ मेरा छोटा परिवार के साथ ।

Thursday, 26 November 2009

मेरा थान्क्स्गिविंग

मेरा थान्क्स्गिविंग बहुत अच्छा था. मंगलवार को, मै यूनिवर्सिटी से घर गई. मेरा घर ओहियो में है, तो हम (मै और अपनी माँ) तीन घंटे में घर पहुंचे. घर के रस्ते पर हम किराने की दूकान पर रुके. मेरे बाप, माँ, बहन, और भाई से मिलकर मुझे बहुत कुशी हुई. मेरा कुत्ता बहुत कष्टप्रद है, लेकिन उससे मिलकर मुझे ख़ुशी हुई.

मुझे शयनगृह का खाना नहीं पसंद है, लेकिन मुझे अपनी माँ का खाना बहुत पसंद है, तो मैने बहुत खाना खाया. मैने अपनी माँ और बहन को खाना बनाने में सहायता की.

बुधवार को, मै दस बजे उठी. मैने टी. वि. पर "मेसी की थान्क्स्गिविंग परेड" देखी. परेड सुन्दर थी, और परेड में बहुत गायक और नर्तक थे. मैने परेड एक घंटा देखी, उसके बाद मैने अपनी माँ को खाना पकाने में सहायता की. मैने पीकन पाय और शकरकन्द बनाये. उसके बाद मैने कुछ गृहकार्य किया. शाम को, हम मेरे माँ की दोस्त का घर खाना खाने गए. मैने बहुत खाना खाया क्योकि वे बहुत अच्छा था. तब हमने कोई फूटबल खेल टी. वी. पर देखा, और उसके बाद हम घर आये. यह दिन बहुत अच्छा था.

Thursday, 29 October 2009

मेरी पसंदीदा किताब

मेरी पसंदीदा किताब Catcher in the Rye है क्योंकि वास्तविक जीवन के बारे में है. अपनी साजिश जटिल नहीं है लेकिन बहुत दिलचस्प है. Holden के विचारों को सुन रहे हो की तरह है. भी बहुत अच्छी तरह से लिखा. कहानी दुख की बात है लेकिन यह बहुत वास्तविक है और जीवन संघर्ष और भावनाओं के बारे में बात करती है

Wednesday, 28 October 2009

मेरी मन पसंद किताब

मेरी मन पसंद किताब " कांच बेरर" हैंमैं उस किताब नौ ग्रेड में पढ़ना लगामैं हर गर्मी में यह किताबें पड़ता हूँउस किताब की लेखक चित्र बनर्जी दिवकरुनी हैवह बहुत उच्ची लेखक हैयह हीरो का नाम अनंद है, और यह सिर्फ़ बारह साल हैइस किताब की हेरोइन की नाम नीशा हैअनंद भारत में अपनी माँ और बहन की साथ रह रहा था, लेकिन एक दिन एक "मैजिक" / जादू पुराना आदमी आया , और अनंद इस आदमी के साथ "एड्वेंचर" में गयाअनंद, नीशा, और इस आदमी (अभयद्त्ता) हिमलया को गया, और वे वहा एक सोसाइटी से मिला, और दुनिया की देखभाल शुरू कियामैं यह कहानी बहुत पसंद है, मुझे लगा है कि यह किताब दिलचस्प हैमैं यह किताब अपनी चोटी बहन को दिया, और यह भी पसंद हैमैं उगले महीने में फिर से पडूंगा

Tuesday, 27 October 2009

मन पसंद किताब

बचपन से, मैं बहुत किताबें पढ़ती हूँआजकल, मैं सिर्फ़ गर्मी में पढ़ सकती हूँपिछले गर्मी में, मेरी मन पसंद किताब "काप्पुचिनो दुस्क" थीकोंकोना बासु इस किताब ने लिखाकहानी में, एक बड़ी बंगाली परिवारसाथ-साथ रहते हैंवे सब मुंबई में रहते हैं। किताब मैं, परिवार को खूब मुश्किल संकल्प करने पड़ा. बासु की किताब बहुत ही सुंदर है . मुझे भारत के लेकक बहुत पसंद है क्योंकि मैं चरिन्न के साथ "relate" करती हूँ . जब मैंने ये सब किताबें पढ़ी, मैं भारत "miss" करती हूँ!

- Nina

Monday, 26 October 2009

मेरी मनपसंद किताब

बचपन मे मुझ को किताबे पड़ने का बहुत शोक था। जब मै बड़ा हुआ मै कम किताबे पड़ने लगा। एक दिन मैने मेरा दोस्त नंदीश को एक किताब पड़ता देखा। मैने इस किताब के बारे मे कुछ सवाल किए। कुछ साल के बाद मै कुछ दोस्तों के साथ लॉस वेगास जा रहा था और मुझे इस किताब की याद आए। मेरा कम के पास एक किताबो की दुकान थी, वहा से मैने यह किताब खरीदी और विमान पर पड़ने लगा।

यह किताब छे छात्रों की है। यूनिवर्सिटी मे एक शिक्षक था, इस शिक्षक पत्ते गिनने सिख चुका था। जवानी मे इस शिक्षक लॉस वेगास जाकर कसीनो की एक खेल मे बहुत पैसा जीता। जब कसीनो को पता हुआ के यह आदमी को पत्ते गिनने आते है तो इस को मर कर हमशा निकल डाला। इस शिक्षक ने यूनिवर्सिटी जा कर छात्रों को खेल सिखाना शुरू किया। लॉस वेगास जा कर छात्रों शिक्षक के लिए बहुत पैसे जीतने लगे। छात्रों की सफलता से बहुत बड़ी समस्याए कड़ी हो गई। छात्रों छात्रों के साथ लड़ने लगे, छात्रों शिक्षक के साथ लड़ने लगे, और कसीनो की पुलिस ही सब के पीछे पड़ गई।

इस किताब को विमान पर पड़ कर मुझ को बहुत कुशी हुई थी। मुझ को लॉस वेगास का बहुत कुछ सिखाया। असे खेल मे इतने पैसे जीतने का सपना मै भी देखने लगा। इसलिए मुझ को इस किताब पसंद हुई। इतने लोग को पसंद हुई के इस किताब की एक फ़िल्म भी बनी।

मेरी मनपसंद किताब

मेरी मनपसंद किताब ऐनिमल लिबरेशिन है. फीटर सिङर यह किताब लिखी. यह किताब जानवर का इलाज के बारे में है. यह किताब कहता है कि लोग शाकाहारी होना चाहिये. यह किताब के बाद मैं शाकाहारी हूँ. यह किताब और तथ्य बहुत रोचक है. मेरी आशा है कि बहुत लोग शाकाहारी होएँ. मैं तीन साल शाकाहारी हूँ.

यह किताब पर्यावरण के बारे में बात करते हैं. अधिक्तर जानवर की दुख के बारे में बात करते हैं. मैं यह किताब पढ़ी क्योंकि मेरी बहन ने मुझ वह दिया. वह शाकाहारी नहीं है, लेकिन वह बहुत शाकाहारी खाना खाती है. मेरा परिवार भी शाकाहारी खाना खाता है. मुझे यह किताब पसंद है क्योंकि मेरी जीवन बदली.

meri pasandidi kitaab

मेरी पसंदीदा किताब हैरी पॉटर है. यह बहुत अच्छा और जादू है. तीन चारित्र हैरी, हेर्मिओने, और रों हैं. ये इंग्लैंड में रहते हैं. यह स्कूल "होग्वार्ट्स" है. यहाँ, ये पढ़ते हैं. हेर्मिओने बहुत होशिअर है, रों बेहूदा है, और हैरी बह्दूर है. कभी-कभी उनको समस्ये हैं. हेर्मिओने के पास एक बिल्ली है. उसका नाम "क्रूक्शंक्स" है. इसलिए मै एक बच्ची है, मुझे हैरी पॉटर पसंद है. मेरी बहन, मेरा भाई, और मै के साथ पढ़ते थे. यघपि मुझे किताबे पसंद हैं, मुझे हैरी पॉटर फिल्मे नही पसंद हैं.

मेरी मनपसंद किताब - ऋजुता

मेरी मनपसंद किताब हेरी पौटर है। सब किताबों में से, मैं अन्तिम किताब को पसंद की। इस किताब में भिडंत, प्यार, और दोस्ती हैं। यह किताब सब से अच्छा है क्योंकी परिणाम है। इस किताब में, सब सवाल के जवाब मिलता है। जब किताब ख़तम होता है, दुश्मन मर जाता है और बहुत साल के बाद दुनिया में शान्ति है। लेखिका इस किताब को बहुत अच्छा तरह से लिखी है।

मन पसंद की किताब

मुझे एक मन पसंद की किताब नहीं है। मुझे बहुत किताबें पसंद है। मेरा मन पसंद लेखक जेम्स पत्तेरसों है। वोह बहुत अच्छा लेखक है। वोह साठ से अधिक किताबें लिखा है। मैनें उसकी पुन्द्र किताबें पढ़ी है। वे बहुत अच्छी है। मैंनें उसकी अलेक्स क्रॉस किताबें पढ़ी हैं। अलेक्स क्रॉस बहुत अच्छा आदमी है। सब पुन्द्र किताबें में अलेक्स क्रॉस अपराधीऔं को धूंडता है। ज्यादा से वे अपराधी तो हत्यारों है। वे बहुत खतरनाक आदमी है। धूंडने के अलावा वह परिवार के सात समय बिताता है। उकसे परिवार में उसके दादी, दो बेटे और एक बेटी है। बच्चे शुरू मैं बहुत छोटे है लेकिन बड़े हो जाते है। अलेक्स क्रॉस के तिन-चार लडकियों को प्यार किया। अगले किताब में बरी स्तोने को प्यार करता है। अलेक्स क्रॉस का बहुत अच्छा दोस्त सब किताबों में है। उसका नाम सैमसन है। समसान और अलेक्स दोनों पुलिस वाले है। जेम्स पत्तेरसों की पहेली अलेक्स क्रॉस किताब १९९३ में प्रकाशित हुई थी। जेम्स पत्तेरसों ने दूसरी किताबें और आदमिओं और औरतें पर लिखी है लेकिन मेरी मन पसंद वाली थो अलेक्स क्रॉस वाली किताबें होगी।

Sunday, 25 October 2009

मेरा मन पसंद किताब

मेरा मन पसंद किताब एक किताब नही है, लेकिन बहुत किताबें हैं। सब किताबें का नाम "पेंद्रगों" हैं। वे किताबें बहुत अच्छे हैं। मैं सिक्स्थ ग्रेड में पहले बार देखा। में किताबें का बाज़ार में देखा। हर साल हमारा स्कूल में स्चोलास्टिक बुक्स आते थे और किताबें और पोस्टर्स और बहुत अन्य चीजों खरीदते थे। मैं पहेली किताब, "मर्चंट ऑफ़ डेथ" ख़रीदा, और एक सप्ताहत में पुरु किया। मैं सोचा की इस किताब बहुत अच्छा है, और मैं सब "पेंद्रगों" किताबें पडूंगा। इस पिछले गर्मी में अंतिम "पेंद्रगों" बाहर आया, और दो दिन में मैं पड़ा। "थे सोल्दिएर्स ऑफ़ हल्ला" सब से अंतिम किताब है, और सब "पेंद्रगों" किताबें का अंतिम किताब है। सब किताबें बहुत लंबा नही है, सिर्फ़ तिन सौ पन्ने, लेकिन तिन सौ पन्ने में एक दूसरी दुनिया है। जब आप पड़ना शुरू करेंगे, तो आप नही रोक कर सकतें हैं। लड़कों का किताब है, लेकिन में सब से सिफारिश करूँगा।

शायद आप अपने बच्चें के लिए ख़रीदे। बहुत मज़ा आयेंगे!

मेरी मन पसंद किताब

मेरी मन पसंद किताब हरी पौटर है रोलिंग जी से। इस कहानी में तीन बच्चे जादू का स्कूल में जाते है और जादू सिकता है। कहानी में एक राक्षस हरी को मारना की कोशिश करता है लेकिन नहीं कर सकता । हरी बहुत होश्यार है और भागता ही है। हरी जादू के बारे में बहुत सीकता है और उसका दोस्तों को सीखाता भी है। हरी का स्कूल में झाड़ू का डंडा पर उडता है । कहानी बहुत विख्यात बन गया है।

मेरी पसंदीदा किताब

मेरी पसंदीदा किताब "शांताराम" है। इस कहानी में एक आदमी मुंबई का "माफिया" में शामिल हुआ। वह ऑस्ट्रेलिया से भाग गया। ऑस्ट्रेलिया में डकैती को गिफ्तार किया गया। इंडिया आने के बाद, वह बहुत आमिर uuहुआ लेकिन वह ने बहुत लोग मरा। इस कहानी में aमुंबई का सब विवरण सीख सकता है। कुछ खंड बहुत डरावना है। उसका नाम "शांताराम" है। शांताराम ने बहुत कोकैने खाया। मुंबई में सबसे बड़ी जेल में रखा गया था। बहुत बार दुसरे लोगों ने उस पर गोली मार दी गई। इस किताब को पड़ने के बाद, मुझे मुंबई जाने बहुत डरता है। कब में अगले बार इंडिया जाऊं, अब मुझे कुछ और स्तानो देखना चाहता है। यह मोटी किताब है लेकिन अफ्घन जाकर तीन दिन में पढ़ा। सब को इस किताब को नही पड़ना चाहिए लेकिन यह बहुत दिलचस्प किताब है।

मेरी मन पसन्द किताब

मेरी मन पसन्द किताब ""लवली" हड़याँ" है। लेखिका "अलिस सेबोल्ड" है। यह लेखिका बहुत ही सुन्दर कहानियाँ लिखती हैं, लेकिन मैं सोचती हूँ की "लवली हड़याँ" सबसे सुन्दर है। यह कहानी दुखी है। इस कहानी में एक लड़की है। उसकी उम्र चौदह साल है और उसका नाम "सुसी सामों" है। सुसी को बारिश की आवाज्ञ पसन्द है। एक शाम को, "सुसी" चल रही थी मैदान में। "सुसी" ने उसका पडोस देखा। पडोस एक बुरा आदमी है। मैदान में, पडोस कहा "सुसी, यहीं आओ, मैं तुमको कुछचीजे देकाना चाहता हूँ।" सुसी इस आदमी के साथ गयी। तो आदमी ने सुसी को माद्कर उसका शरीर छिपा। लेकिन सुसी इस कहानी में रती ती।

सुसी स्वर्ग में रती ती। स्वर्ग में, एक "playground" है लेकिन सिर्फ़ एक झूला है। सुसी ने झूला पर बैठकर दुनिया देखा। दिन भर सुसी ने अपना परिवार देखा। उसक परिवार में, एक बहन, माँ, और बाप हैं। सुसी के मृत्यु के बाद, माता-पिता की शादी टूट गया। पिता ने हमेशा के लिए कातिल की खोज की और माता अलग आदमी के साथ रती ती। यूँ ही दस साल हो गया। दो मित्रों को छोड़कर सब मित्र सुसी के बारे में भूल गया।
मुझे इस कहानी को पसन्द है क्योंकि यह कहानी दोनों सुन्दर, रोचक, और दुखी है.

मेरी पसंदीदा किताब

मेरी पसंदीदा किताब का नम थे कैट रनर है। यह किताब एक अफ्घनी आदमी (आमिर) के जीवन की कहानी है। किताब का पहला विमाग आमिर के बचपन के बारे में है। आमिर को याद आता है बीता समय बचपन का जब वह अपने नौकर जो उसका दोस्त भी था के साथ खेलता था। आमिर याद करता है एक बुरी घटना जो उसके जीवन को बदल देती है। उस घटना के बाद आमिर अपने पिता के साथ अमेरिका जाता है। वहां जाकर आमिर जवान होकर शादी करता है। फ़िर उसे पता चलता है की हस्सन (आमिर का नौकर) मर गया और हस्सन उसका सौतेला भाई था। किताब का दूसरा भाग आमिर की सफर अफगानिस्तान के बारे में है। उसका बतिजा अफगानिस्तान में है और आमिर को उसे बचाना है। मुझे यह किताब अच्छी लगी क्योंकि इसकी कहानी दिलचस्प और अची तरह से लिकी थी।
मेरी मन पसंद किताब "हैरी पॉटर " है। किताब कि लेखक "जे के रोलिंग " है। यह किताब बहुत मजेदार और दिल्चुस्प हैकहानी का "प्लोत"दोस्ती में हैयह कहानी जादू के बारे है। हैरी दो दोस्त है। दो दोस्त का नम हेर्म्योनी और रों है। मैं किताब ४थ ग्रेड में शरू किया और किताब का सीरीज़ १२थ ग्रेड में खतम किया। सुब किताबे फ़िल्म भी है। पिछले गुर्मियो में ६ फ़िल्म बहार निकलया। सीरीज़ में ७ किताबे है।

मन पसंद किताब

मेरी मन पसंद किताबें का एक Catch-22 है। उसका लेखक जोसेफ हेलर है और वह १९५५ में प्रकाशित होता था। मुझे यह किताब पसंद है क्योंकि यह बहुत मजेदार और दिलचस्प है। कहानी WWII में यूरोप में है। नायक का नाम योसारियन (Yossarian) है। वह पायलट है, लेकिन उसको युद्ध में लड़ना नहीं पसंद है। योसारियन घर जाना चाहता है, लेकीन उसको बहुत मिशन उड़ाने पड़ते हैं। मिशन की राशि बढ़ती रहती है। किताब के बारे में उसके अनुभव हैं। ये अनुभव कभी कभी मजेदार और कभी कभी उदास हैं। वे अक्सर दोनों मजेदार और उदास हैं। किताब में बहुत "पैराडाक्स" भी हैं। यहाँ एक्सैम्पल है: एक आदमी अपने दफ्तर में ही लोगों से मिलता है, लेकिन जब यह आदमी अपने दफ्तर में है तब लोग उसके दफ्तर में नहीं जा सकते हैं! मुझे जोसेफ हेलर की किताब "Something Happened" भी अच्छी लगती है।

Saturday, 24 October 2009

मेरी मान पसंद किताब

मेरी मान पसंद किताब है "3 Biggest Mistakes of My life." उसका लेखक चेतन भगत है। यह किताब भारत में बहुत ख्याती है, लेकिन अमेरिका में लोघ इसको नही जन्नता। चेतन भगत ने और दो किताबे लिखनी थी। वे भी अच्छी कहानिया हैं। मुझे यह किताब सबसे पसंद है क्योंकि कहानी में तीन दोस्त है, और बिज़नस के लेकर है। दोस्तों की किस्मत बहुत भूरी है, लेकिन वे नही हारे। पहले वे एक साथ होते थे, लेकिन एक मोटी लडाई के लिए वे एक दूसरे से नफरत करते हैं। लम्बी समय के बाद में तीनो फिर मिलेंगे, और बात शुरू करेंगे। यह किताब बहुत अच्छी ही। मेंने ये किताब तीन बार पहले पढ़ी, लेकिन में और एक बार पढ़नी चाथी हूँ। आप सब को इस किताब पढ़नी चाहिए।

मेरी मन पसंद किताब

मेरी मन पसंद किताब "बिन्दिस एंड ब्रिदेस" हैलेखक निशा मिन्हास हैयह किताब की मैन कैरेक्टर का नाम ज़र्लीना शंकरहैज़र्लीना और उसकी परिवार ब्रिटेन में रहते हैज़र्लीना और उसकी बहेन के पास एक साडी की दुकान हैदुकान बहुत सफल है और ज़र्लीना बहुत खुश है क्युकिं उसकी तलाक ख़तम हो गयाजब ज़र्लीना घर गई तब उसकी माँ बाप नाराज़ होगया क्युकिं उसकी पास पति नहीं हैमें इस किताब को इतनी पसंद करती हूँ क्युकिं ज़र्लीना मुझे अपनी मसि की याद दिलाती है। मेरी मसि भी दिवोर्से है और मेरा दादा और दादी को उसे समझ नहीं करते है। किताब की एंड में ज़र्लीना उन्हें समझ में बनते है और सब लोग खुश है।

Chirag gets help from the Monica

Chirag gets help from the Monica

Pranadhi & Akhil - Midterm Audio

Pranadhi & Akhil - Midterm Audio

Midterm Oral Exam: Sathish and Sonali

Midterm Oral Exam

Adeeb and Kimi Midterm Oral Exam

Adeeb and Kimi Midterm Oral Exam

Jay and Divya Midterm Oral

aawaj bahut nicha hai

Ronak and Reejuta - Midterm Oral Test

Ronak and Reejuta - Midterm Oral Test

Gorav and Rupal

Gorav and Rupal Midterm Test

Friday, 23 October 2009

मेरी मन पसंद किताब: दा विन्ची कोड

मेरी मन पसंद किताब है थे दा विन्ची कोड। मुझे यह किताब बहुत पसंद है क्योंकि यह किताब बहुत ही दिल्चुस्प है। यह किताब एक्शन और म्य्स्तेरी गेंरे की है। इस किताब में एक स्य्म्बोलोगिस्ट, रॉबर्ट लंग्दों खोशिश करते है की वह मशहूर करतोर ज्ञक्क़ुएस सौनिएरे की माउथ का राज़ जन पाए। ज्ञक्क़ुएस की लाश पेरिस के लौव्रे म्यूज़ियम में मिलती है। ज्ञक्क़ुएस की पोती, सोफिया नेवेऊ और रॉबर्ट लंग्दों साथ में कम करके खोज करते हैं की किसने ज्ञक्क़ुएस की हत्या की। कहानी में बहुत सरे पहेल्याँ आती हैं जिस का सामने सोफिया और लंग्दों करते हैं। अंत में रॉबर्ट और सोफिया को पता चल ता है की होली ग्रिल और प्रिओरी ऑफ़ सायन का कोई रिश्ता ता ज्ञक्क़ुएस के मोठ के साथ।इस किताब में बहुत सरे हिस्ट्री फक्ट्स हैं एउरोपे के बारे में जो मुझे बहुत पसंद आए। मुझे म्य्स्तेरी किताबें बहुत पसंद है इसलिए दा विन्ची कोड मेरी मन पसंद किताब है.

"विटनेस इन पैलिस्ताइन"

मेरी मन पसंद किताब "विटनेस इन पैलिस्ताइन" है। लेखका अन्ना बल्त्जेर है। यह कहानी कथेतर साहित्य है, कहानी इज़राइल का "आक्युपेशन" फ़िलिस्तीन पर है । लेखका फ़िलिस्तीन जाकर एक छोटी फ़िलिस्तीन का गाँव में रहती थी । लेखका किसान के साथ खेत को लेकर बात करती थी और बुहत सारे विरोध जाहती थी।
किताब में एक कहानी एक गर्भवती की औरत है । जब उसको लगता है की उसको प्रसूति होने वाली है तो उसके पति ने एक अस्पिताल गाड़ी फोन किया पर जब गाड़ी "चेक पॉइंट" पहुंचायी इजरेली फौजी ने आस्पिताल गाड़ी औरत का घर जाने माना नहीं । औरत ने दो बच्चे प्रसव कराये पर दोनों मर गये । यह किताब बहुत उदास है क्योंकि अभी तक यह झगड़ा चल जाती है ।
लेखका बड़ा दीवार को लेकर लिखती थी । उसने लिखा कि बहुत सारे खेत किसान से अलग करते है। इसलिए किसान नहीं खेती कर सकते है और गुजारा भी नहीं चल जा सकते।
मुझे "विटनेस इन पैलिस्ताइन" पसंद है क्योंकि मुझे राजनीतिशास्त्र को लेकर सीखना पसंद है।

मेरी मन पसंद किताब

मेरी मन पसंद किताब "On the Road" है। इसका लेखक जैक केरौअक है। मैने ये किताब iiपहली बार पढ़ी थी जब मैं पन्दरा साल की थी। मुझे ये किताब अपना अंग्रेज़ी क्लास की लिए पढ़ना था। बहुत अच्छी किताब है। ये किताब की कहानी है; जो लेखक है, उसे कैलिफोर्निया जाना है तो वह एक किताब लिख सकता है। वह एक आदमी से मिलता है, जो हमेशा घूमता रहेता है। तो उन दोनों की दोस्ती हो जाती है। लेखक घूम फिर के बहुत जागे पहुच जाता है। वह डेनवर, कैलिफोर्निया, न्यू यार्क, और मेक्सिको भी चला गया। यह किताब में है जिन सब लोग से लेखक मिला और उनके कहनिया। इस किताब के वेजै से, १९५० के करीब "beatnick generation" शरू हूआ अमेरिका में। मुझे लगते है की सब लोग को ये किताब एक बार पढ़्ना चाहिए।

पसंदीदा किताब

मेरी पसंदीदा किताब "The Alchemist" है। किताब कि लेखक "पाउलो केलो" है। यह किताब बहुत सुंदर है। कहानी बहुत दिलचस्प है। जब भी मैं पढ्थी हूँ, मैं कहानी में डूबती हूँ। मेरे दोस्त ने मुझे यह किताब दिया। पहली बार जब मैं पढ्थी थी, पहला पृष्ठ से मैंने किताब को प्यार हो गया। किताब एक आदमी का जीवन का यात्रा के बारे में है।
लेखक ने बहुत अलग सी कहानी लिखा और अगर समय है, सब लोग ने यह किताब को पड़ना चाहिये।
मुझे बहुत पसंद है।

मेरी मन पसंद किताब

मैं अभी मेरी मन पसंद किताब पर लिखूंगा। मैं ने बहुत किताबें नही पढ़ी, लेकिन मेरी एक मन पसंद की किताब ज़रूरी है। मेरी मन पसंद किताब "Life of Pi" है। यह कहानी भारत और इंडियन ओसान मे हुई। इस कहानी मे सब हिन्दुस्तानी है। कहानी मे एक लड़का, जिसका नाम पिस्सिं पटेल है, उसका परिवार, और उसका पिता-जी का जू के बारे में है। पिस्सिं का पिता-जी को कनाडा मे रहना था, और उसको एक जू वहाँ खोलना था। तो सारा परिवार एक बड़ी नाव पर गए, और सारे पशु को उसके साथ ले गए। कहानी मे तिन भाग हैं, पहला भाग भारत में है, दूसरा नाव पर, और तीसरा मेक्सिको/कनाडा मे। काहानी बहुत ही रोचक है और उदास भी। कहानी की बारे मे कुछ और नही लिखूंगा क्योंकि यह एक किताब सबी को पढ़नी चाहिए। इस कहानी मे तिन धर्मों के बारे मे बात होती है, हिंदू धर्म, इस्लाम, और ईसाई धर्म। वोह लड़का तीनों धर्मों को विश्र्वास करता है.

Thursday, 22 October 2009

नैंसी द्रव

आज कल मुझे किताबें का एतना शौक नहीं रा। लेकिन बचपन में मुझे नैंसी द्रव की किताबें पसंद आती थी। मुझे वे किताबें पसंद थे जिस में कोई राज़ या रहस्य थी क्योकि मुझे पढ़ने में मज़ा आता। हर नैंसी द्रव कहानी में कोई न कोई बदमाश होता जो कुछ बदमाशी करता। और जब नैंसी द्रव को पता करना पड़ता कि यह बदमाश कौन था तभी मुझे किताब पढ़ने का मज़ा आता। जैसे नैंसी द्रव को कुछ सबूत मिल जाता तब ही धीरे-धीरे बदमाश का जान-पहचान और नजदीक आता। कई बार नैंसी द्रव कि जान पर हमला होता था और मुझे कभी-कभी डर लगता था खासकर जब मैं रात को पढ़ती थी। लेकिन हमेशा की तरह नैंसी द्रव कामयाब होती और वह बदमाश को पाकर लेती। मुझे ऐसी कहानियाँ मज़ेदार लगती - जिस में कोई मुजरिम हो और कहानी उसकी तैलाश के बारे में होती।

Wednesday, 14 October 2009

Subzhivala

Sathish and Sonali argue with sabzhivali Khushbu

Wednesday, 7 October 2009

मेरा मनपसंद शहर

अमेरिका में मेरा पसंदीदा शहर पोर्टलैंड, ओरेगन है| मैं पहली बार इस गर्मियों में वहाँ ग अपने चचेरे भाई की शादी के लिए| यह बहुत सुंदर है! यह बहुत पार्क और उद्यानों का दौरा किया है, मेरे चाचा एक सुंदर गुलाब उद्यान के पास रहता है| यह भी बहुत अच्छा मौसम है, गर्मियों में यह बहुत गर्म नहीं है और सर्दियों में बर्फ नहीं मिलता है| यह भी बहुत प्रगतिशील है| पोर्टलैंड में भी बेहतरीन रेस्तरां है, और बहुत शाकाहारी हैं| मुझे जलन हो रही है कि मेरे चाचा वहाँ रहता है, यह बहुत सुंदर है! मुझे आशा है कि मैं वहाँ जा सकत हूँ

Thursday, 1 October 2009

मेरा मन पसंद शहर

मेरा मन पसंद शहर लॉस वेगास है। लॉस वेगास दुसरे शहरे से अलग है। वहा शौपिंग कम होता है और जुआ खेलन, शराब पीना ज़्यादा होता है। लॉस वेगास मै बहुत ज़्यादा और अलग अलग होटल भी है। हर होटल ने उनकी अलग स्टाइल राखी है। इसलिए लॉस वेगास मै घूमना बहुत मज़ा आता है। लॉस वेगास के होटल मे बहुत अच्छे रेस्तरां और क्लब भी होते है। लॉस वेगास मै बहुत गरमी भी है। जब मै लॉस वेगास जाता हू, मुझे लगता हे के मै छुटी पर हू। मै जुआ कम खेलता हू लेकिन मेरे दोस्तों को जुआ खेलने मे बहुत मज़ा आता हे। मुझे होटल के पुल के पास विशारमा करने पसंद हे। मे दो तीन साल पहले लॉस वेगास गया था इसलिए हम जाने के प्लान कर रहे हे।

मेरा मनपसंद शहर

कभी-कभी माध्यामिक शिक्षालय में, हम सैन्डस्की ओहाइयो जाते थे. सैन्डस्की में, एक रोलर कोस्टर का पार्क है. यह रोलर कोस्टर का पार्क बहुत बड़ा है. वहाँ, तीस रोलर कोस्टर हैं. जब मैं वहाँ जाता हूँ, मैं और मेरे दोस्त सब रोलर कोस्टर प्रयोग करते हैं. दस रोलर कोस्टर के बाद, हम खाना खाते हैं. यह खाना दुन्य में सबसे ख़राब है क्योंकि बहुत अस्वस्थ है. कभी-कभी मैं बीमार होता था, तेकिन अक्सर नहीं. ये छुट्टिये हमेशा बहुत मज़ेदार हैं.

मेरा मन पसंद शहर

मेरा मन पसंद शहर होर्षम, पेन्सिल्वेनिया हैमैं नौ साल पहले कांटो , मिचिगन से होर्षम, पेन्सिल्वेनिया को आयामैं होर्षममें चौथे - बारहवें ग्रेड (स्टैण्डर्ड) खत्म किया । मेरा माता-पिता और मेरी बहन होर्षम में रहते हैं । मेरे दोस्तों भी होर्षम में रहते हैं । मैं बहुत दोस्तों होर्षम में मिला । होर्षम में बहुत अच्छे भोजनालय हैं । मेरा मन पसंद भोजनालय "जामदानी" है । होर्षम में बहुत सुंदर पार्क्स भी हैं । मैं अपनी पसंदीदा पार्क में साप्ताहिक जाहता हूँ । मैं खुश हूँ जब मैं होर्षम को जा सकता हूँ । इसलिए मुझे होर्षम पसंद है, और मे होर्षम में लंबे समय रहूँगा ।

Wednesday, 30 September 2009

मेरा मन पसंद शहर

मेरा मन पसंद शहर वॉशिंगटन डी सी है। मेरे दो चचेरे बहियों और एक बहन वहा रहते है। जब में वहा जाती हूँ, तब हम म्यूज़ियम भी जाते है। वहा बहुत सारे म्यूज़ियम है, मुझे तस्वीर देखना बहुत पसंद है। गर्मियों में वॉशिंगटन में सबसे सुंदर फूल भी देख सकता है। दो साल पहले गर्मी की छुट्टी में मैं वॉशिंगटन गई थीमैं और अपनी भाई-बहन एक दौरे पर गए थे। हमको कैपिटल देखना चाहता था, लेकिन हम ओबामा से नही मिले।

मेरा मन पसंद शहर

मेरा मन पसंद शहर शिकागो है। मेरा जनम वहां था। में और मेरा परिवार वहां ६ साल रहते थे। मेरा सीनियर साल स्प्रिंग की छुट्टी पर में और मेरे दोस्त वहां गया था। हम लोग सिटी में बहार खाने पीने बहार गए थे। शिकागो में हर साल एक बहुत बड़ा नाचने की प्रतियोगिता है. उस साल, मिशिगन रास टीम फर्स्ट प्लेस जीता था। इस लिए मेरा स्प्रिंग छुट्टी शिकागो में बहुत मझेदार थे। जब में बड़ी होगी तब में शिकागो वापस जाउंगी क्युकिं वहां बहुत लव फर्म है। में अपनी बच्चो को शिकागो अकुईरियम से देखने लेजुंगी। जब में छोटी थी, तब में और मेरे पिता जी वहां जाते थे और मुझे वहां बहुत मजाक आते थे।

मेरा मन पसंद शहर

मेरा मन पसंद शहर न्यूयार्क है. मेरे चाचा, चाची, और दो चचेरे न्यूयार्क में रहते हैं, तो मै और मेरा परिवार उन निरीक्ष्ना करते हैं. मुझे न्यूयार्क बहुत पसंद है क्योकि यह बड़ा और प्रभावशाली. मुझे दुकान और रेस्तरां बहुत अच्छे लगते हैं. मेरा पसंदीदा न्यूयार्क रेस्तरां का नाम "फिग्लियो" है. "फिग्लियो" एक फ्रेंच रेस्तरां है, और वहा बहुत अच्छे मिठाइया. तो आप न्यूयार्क जाते हैं, आपको "एमपिरे स्टेट बिल्डिंग" देखना है. यह बहुत बड़ा है, और उंदर, यह बहुत सुन्दर. न्यूयार्क में, मुझे भी कौतुकालय अच्छा लगता है. कौतुकालय का नाम "मोमा" है. जब मेरे पिता तेईस हुआ, इसने न्यूयार्क गया. यहाँ, उसने एक हॉस्पिटल में काम किया. इसको न्यूयार्क यात्रा बहुत पसंद है, क्योकि वह अपने दोस्त यात्रा कर सकता है.

मेरा पसंदीदा शहर

मेरी दुनिया में पसंदीदा शहर देत्रोइत है. मैं देत्रोइत में पैदा हुआ था. मुझे, मेरे भाई विजय, और मेरे चचेरे भाई अखिल सभी एक ही अस्पताल में पैदा हुए थे. मेरा परिवार सब देट्रोइत जाते थे. हमें टाइगर्स और रेड विंग्स खेल देखने गये थे.मेरे पिताजी अपने काम से मुक्त टिकट मिल गया. अगले शुक्रवार मैं देत्रोइत वापस जा रहा हूँ. मैं और मेरे पांच दोस्त एक हास्य देखने जायेंगे.सिर्फ देत्रोइत में तुम सब कुछ पा सकते हैं. और देत्रोइत एमिनेम का घर है. उसके पास एक गाना है, "वेल्कोमे तो देत्रोइत". इस शहर में ज़िंदा है.

मेरा मनपसंद शहर न्यू यार्क सिटी है

मेरा मनपसंद शहर न्यू यार्क सिटी है कयोंकि बचपन में, मैंने इस शहर में, मैंने बहुत मज़ा किया था। जब मैंने न्यू यार्क सिटी गयी थी, मैंने सड़क में प्रेत्जेल और फालाफेल खाए थे मेरी बहिन के साथ। मैंने प्रेत्जेलवाला के साथ बात किया और मैंने खहती थी की "मैं कम नमक चाहती हूँ लेखिन और कूछ मुस्तार्ड चाहती हूँ।" मैंने बहुत खुश थी कयोंकि भार से बहुत ठंड था लेखिन मेरा प्रेत्जेल गर्म था।

न्यू यार्क सिटी में, मुझको सुब्वय (रेलगाड़ी) में घूमना पसंद है कयोंकि रेलगाड़ी सस्ती है और मुझको दिलचस्प लोगों को देखना पसुन्द है। जब मेरी उम्र नौं साल थी, मैंने रेलगाड़ी में, दोस्त करना चाहिए था लेखिन मेरी माताजी यह बात को नहीँ पसंद था।

एक बार, पिज्जा का दूकान खाने के बाद, मुझको बाकी पिज्जा था । इसलिए मेरा पिता-जी ने एक गरीब आदमी को बाकी पिज्जा देना। मैं सोचती थी की वह आदमी बहुत खुश था कयोंकि उसको भूक था।

न्यू यार्क सिटी में, मैंने ट्विन तोवेर्स में गयी थी, रात में स्क्य्लिने देखता था, और बारिश में नाचती थी। न्यू यार्क एक तेज़ शहर है। सब लोग बहुत जल्दी से चलते थे और औरतेँ हाई हील जूते पहने थे। मुझको न्यू यार्क सिटी को पसुन्द है कयोंकि यह शहर बहुत बडा है, और इस शहर में, बहुत दिलचस्प लोग है, और मजेदार खाना भी है।

एक दिन, मैं न्यू यार्क में काम करूंगी। मैं हाई हील पहनूंगी और स्क्य्लिने के पास पिज्जा खाऊँगी। खानने के बारे में, रात में, मैं दोस्तों के साथ क्लब में नाचूंगी।

पसंदीदा शहर blog

मेरा पसंदीदा शहर एन आर्बर है। मेरे सब दोस्त यहाँ रहते है। एन आर्बर में मैं सब कुछ सीख रही हूँ। मैं पढाई और स्वतंत्र बनना सीख रही हूँ। एन आर्बर बहुत अच्छा है लेकिन बहुत ठंड है। और मुझे ठँडा मौसम नहीं पसंद है। फिर भी एन आर्बर मेरा पसंदीदा शहर है।

मेरी पसंदीदा शहर

क्या आप ने कभी वैंकूवर घूमता था? वह बहुत सुंदर शहर है। मैं ने पाँच उमर से दस उमर थक वहां रहता था। मुझे याद है की हमेशा अच्छी मौसम है। वैंकूवर सागर के पास है, थो कभी कभी मेरी परिवार और हमारे दोस्तों जाते थे। शहर का मध्यम में बहुत विविध लोग रहते थे। मेरी क्लास में, चीन से, भारत से, यूरोप से, अफ्रीका से... सबही स्थान से छात्रों आए! वैंकूवर में बहुत लोग फ्रेंच बोलता हैं।

माय फवोरिते सिटी

मेरा पसंदीदा शहर न्यूयॉर्क है । न्यूयॉर्क माँ बहुत कुछ करना है। आप ब्रोअद्वय पे शो देख सकतें हैं। मैं न्यू यार्क साल में दो बार जाता हूँ। मैं वहां बसेबल्ल देख ने जता हूँ। आप वहां स्तातुए ऑफ़ लिबर्टी देख सकते हैं और एमपिरे स्टेट बिल्डिंग भी। न्यू यार्क में लोगों की बहुत तादात है। मैं न्यू यार्क को बहुत चाहता हूँ। मैंने वहां से इ लव न्यू यार्क की टी शर्ट ख़रीदी है।

सन फ्रांसिस्को मेरा मन पसंद शहर हे

मेरा मन पसंद शहर सन फ्रांसिस्को हे। मुझे वह शहर बचपन से पसंद आता हे। मैँ वह पहली बार गई जब मैँ एक साल की थी। तब से मैँ चार, पाँच बार जा चुकी हूँ। मुझे सन फ्रांसिस्को बहुत कारण की लिए पसंद हे। जो घर हे वाह, बहुत रंग बी रंजे हे। सब घर एक दुसरे से अलग हे। सन फ्रांसिस्को समुंदर के पास भी हे और मुझे बीच बहुत पसंद हे। सन फ्रांसिस्को में ज़दा ठंड भी नहीँ होती जेसे मिचिगन में होती हे। और वह ज़दा गर्मी भी नहीँ हे। उस शहर में बहुत आलग से लोग होते हे जो बहुत मज़ेदार हे। वह क्योँकी बहुत लोग शाकाहारी हे तो बहुत शाकाहारी रेस्तौरंट्स भी हे। मुझे सन फ्रांसिस्को सब से ज़दा पसंद क्योँकी वह बहुत सारे कल्तुरे हे और लोग बहुत लिबरल हे। इसलिए सन फ्रांसिस्को मेरा मन पसंद शहर हे।

मेरा मनपसंद शहर - ऋजुता

मेरा मनपसंद शहर मुंबई है। जब भी मैं मुंबई में हूँ, मुझे बहुत मज़ा आती है। मैं उधर बहुत खाती हूँ - रास्ते के पानी-पूरी, तंदूरी नॉन, आलू पराठा, और मुंबई का आम भी खाती हूँ। मुंबई मैं भी एक बहुत सुंदर मन्दिर है। इस मन्दिर का नाम है "सिद्धि विनायक"। मैं और मेरा परिवार हर साल सिद्धि विनायक को जाते हैं। मुंबई में मेरी दादी, नाना, और नानी रहते हैं। मैं नानी और दादी के साथ नाचती। मैं नाना के साथ क्रिकेट देखती हूँ। बहुत मजा आता है। मुंबई में, सब चचेरे के साथ, मैं बहुत फ़िल्म देखती हूँ। हर साल, जब मैं मुंबई से लौटती हूँ, मैं वौपिस जाना चाहती हूँ।

मेरा मन पसंद शहर!

बचपन से मेरा मन पसंद शहर हॉलैंड मिचिगन है। मैं हॉलैंड में पौदा हुआ था। मेरा मन पसंद शहर हॉलैंड है क्यूंकि यह बहुत सुंदर शहर है। सब जगह तुलिप है और वहाँ तुलिप की त्योहार है। त्यौहार में डच नर्तकियों, अच्छा खाना, ताज़ा पेय, और सुंदर फ़ूल है। हॉलैंड में लोग बहुत अच्छा है। इस मेरा मन पसंद शहर है भी क्यूंकि मेरे परिवार हॉलैंड में रहते है। दोनों मामा और उसके परिवार रहेते है। मुझे अपने मामा बहुत पसंद है। हॉलैंड बहुत छोटा और शांत शहर है। हॉलैंड में बहुत सुंदर समुद्रतट है। यह शहर में बहुत लोग नही है लेकिन मेरा मन पसंद शहर है।

मेरा मन पसंद शहर पेरिस, फ्रांस है। मै वहां पर कभी नहीं गई हूँ लेकिन मुझे वेह शहर अच्छा लगता है क्योंकि वेह सुंदर है। हाई स्कूल मै मैंने एउरोपा हिस्ट्री और फ्रेंच की क्लास्सेस लीं थी। उन क्लास्सेस मै हमने पेरिस के बारे मै सिखा था। उसी समे से मुझे पेरिस से प्यार होगा। पेरिस मे बहुत चीजे है करने के लिए जैसे सिघ्त्सेएंग, शौपिंग या घूमना फिरना। पेरिस मै बहुत सी मोनुमेंट्स है जैसे की एइफ्फ्ले टावर, नोट्रे डेम और लौव्रे म्यूज़ियम। एइफ्फ्ले टावर पेरिस की सबसे बरी खूबी है क्योंकि वेह बहुत सुंदर है। लोग दूर दूर से आते है एफ्फिले टावर को देखने। लोग कहते है की पेरिस प्यार का शहर है क्योंकि इस शहर में लोग हमेशा खुश रहते हैं। पेरिस मै खाना भी अच्छा है। वहां पर अलग अलग तरीके खा खाना मिल था हा जैसे की गार्लिक ब्रेअस्म, पास्ता और पिज्जा। मेर सपना है की मै एक दिन पेरिस जओंगे क्योंकि पेरिस मेरे मन पसंदी शहर है।

मेरा मनपसंद शहर!

SOURCE: http://en.wikipedia.org/wiki/File:MichiganCentralCampusDiag.jpg
कैम्पस पर दईऐग की एक फोटो।

मेरा मनपसंद शहर ऐन आर्बर, मिशिगन है। मैं दो-दाई साल ऐन आर्बर में कैम्पस पर रहा है क्योंकि मैं मिशिगन की यूनिवर्सिटी जाता हूँ। मेरा जन्म स्टर्लिंग हईट्स, मिशिगन में हुआ और मुझे वह शहर भी पसंद है। मुझे ऐन आर्बर घूमने पसंद है। जब मैं घूम रहा हूँ तब अक्सर बहुत लोग बाहर सड़क पर हैं। मैं शहर में बहुत दिलचस्प जगह जा सकता हूँ क्योंकि मैं उनके नज़दीक रहता हूँ। शनिवार को मैं बिग हावस (बड़ा घर) जाकर फुटबॉल देख सकता हूँ। मेरा पहला साल यहाँ एक दोर्म के कमरे में मेरे दोस्त के साथ रहता था। मैं सोचता हूँ कि वह अच्छा अनुभव था। मैंने यहाँ नए दोस्तों से मिला है। मैं यहाँ बहुत ज़्यादा नए दोस्तों से मिलना चाहता हूँ!

मेरा पसंदीदा शहर

मेरा पसंदीदा शहर लॉस एंजेलेस है। वहां का मौसम बहुत अच्छा है क्योंकि टांडा जाड़ा नहीं होता है। पुरा साल गरम है और मैं गरम मौसम पसंद करता हूँ। उस शहर में और भी अच्छी चीजें है। वहां बहुत सड़े बाज़ार, बाच, और घुमने के जगे है। मेरा दोस्त भी वहां लॉस एंजेलेस में रहता है। इसलिए हम बहुत मज़ा कर सकते जब मैं वहां रहूँ। सन डिएगो वहां से नज़दीक है। और सन डिएगो में जू है। मैं सन डिएगो जू को पसंद करता हूँ। इसलिए मुझे लॉस एंजेलेस पसंद है.

देत्रोइत मिचिगन

मेरा मन पसंद शेहर देत्रोइत मिचिगन है। यह मेरा मन पसंद शहर है क्योंकि यहाँ मेरा जन्म हुआ था। इस शेहर मे मेरा बहुत सारे यादें आते है। यहाँ मैं मेरी सारी ज़िन्दगी जी रहा हूँ। देत्रोइत शेहर बहुत बड़ी नही है, लेकिन उसके लोग बहुत अच्छे है। देत्रोइत शहर का नाम फ्रेंच है। देत्रोइत शहर को सब लॉन्ग पह्चानते है क्योंकि देत्रोइत मे सब गाड़ी वाले है। यहाँ फोर्ड, गिएम, और क्रईस्लर के प्रधान कार्यालय है, लेकिन सब देत्रोइत शहर में नहीं है, वे सब देत्रोइत से ज़ज्दिक है। देत्रोइत के सारे खेल के टीम अच्छे भी है। यहाँ चार खेल है, बास्केटबाल, फुटबॉल, हाकी, और बेसबाल। हाकी का खेल सब से अच्छा है क्योंकि यह टीम ने खूब सारे कप्स जीते। लेकिन मेरा मन पसंद खेल बास्केबल्ल और फुटबॉल है। यह शहर बहुत अच्छा है और मैं इस शहर में रहना चाहता हूँ.

Tuesday, 29 September 2009

मेरा मन पसंद शहर

अगर मुझे सिर्फ़ एक मन पसंद शहर के बारे में लिखना होगा थो वह प्रिन्सटन है। यह शहर न्यू जर्सी में है और मेरे घर के बहुत करीब है। यह छोटा सा शहर आस-पास शेहेरों से अलग है। प्रिन्सटन में सारी जनता होती है। पांच साल बचों से बूढ़े लोग प्रिन्सटन के सड़क पर घूम रहे होते हैं। प्रिन्सटन एक यूनिवर्सिटी का शहर भी है तो मेरे उमर के बहुत सारे छात्र मिलते हैं। प्रिन्सटन एक शांत और सुंदर जगा है जहा कई छोटे-छोटे दुखनें हैं। मेरे घर के पास यही जगा हैं जहाँ कोई भी अच्छा दिन जब वक्त हो मैं और मेरे दोस्त मिलते हैं। दिन या रात हो, मुझे वक़्त मज़ा आता है - इस शहर में कुछ तो जादू है।

Monday, 28 September 2009

मेरा मन पसंद शहर



जब मैंने हमारे "टोपिक" पहला देखा, मैंने सिर्फ़ एक शहर के बारे में लिखने चाहते थे - कलकत्ता। जुलाइ में, मैंनेकलकत्ता फिर से गई, परिवार के साथ। मेरे सारे परिवार वहां रहते हैं, तो इस लिए मुझे कलकत्ता बहुत पसंद है। मेरीमाँ खूब खुश थीं जब हमें भारत गई क्योंकि उनकी छे भाई-बहेन बंगाल में रहते हैँ । कलकत्ता एक बड़ा और व्यस्तशहर है, लेकिन बहुत मजेदार भी है। मैं और मेरी बहन बहुत बाज़ार जाती थीं मेरी मौसी के साथ। घर में, हम सब कोखूब बात -चित किया । मेरी सब मौसी ज़बरदस्त खाना पका सकते हैँ तो मैंने खूब मिठाइयॉ खायीं । मैंने चचेरे भाई-बहन के साथ ताश खेली और पतंग उडी । कलकत्ता का मौसम गर्मी था लेकिन हमारे समय वहां बहुत आराम थे ।

- नीना

Sunday, 27 September 2009

वॉशिंगटन डीसी


पहेली तस्वीर में मद्यपान का उत्सव है।

और दूसरी तस्वीर में दो "पंडा भालू"

मेरा मन पसंद शहर वॉशिंगटन डीसी है। डीसी उ.स. की राजधानी है। और डीसी में बहुत सारी सुंदर इमारतें है। मेरे मन पसंद जगह डीसी में "नैचुरल हिस्ट्री म्यूज़ियम" है। बचपन में मेरी छोटी बहन, मेरी माँ और मैं एक साथ डीसी जाती थी। हम हमेशा "नैचुरल हिस्ट्री म्यूज़ियम" जाती थी और बड़ी "रॉक का तमाशा" देखती थी । डीसी में एक अच्छा जीवादि वाटिका और जीवादि वाटिका में दो तिन "पंडा भालू" ।
मैं कभी नहीं "व्हाइट हाउस" में गयी और सिर्फ़ एक बार "एयर एंड स्पेस म्यूज़ियम" गयी ।
बचपन में मेरी छोटी बहन और मैं मद्यपान का उत्सव "नैचुरल हिस्ट्री म्यूज़ियम" के सामने पर जाती थी । आजकल मद्यपान का उत्सव गाया हुआ ।

Friday, 25 September 2009

मेरा पसंदीदा शहर

मेरा पसंदीदा शहर अन्न अर्बोर है। मेरा विश्वविद्यालय">विश्वविद्यालय अन्न अर्बोर में है। अन्न अर्बोर मेरा पसंदीदा शहर है क्योंकि बहुत सुन्दर है। अन्न अर्बोर एक बड़ा जीवंत शहर है। इस शहर में एक बड़ा खूबसूरत बगीचा है। जब मौसम">मौसम अच्छा है, मैं वहां बैठ्ती हूँ और पढ़ती हूँ। अन्न अर्बोर में सब मौसम">मौसम आता है। अन्न अर्बोर में ढेर शारे मजेदार जगह भी है। इस शहर में लोगों के लिए बहुत करने का चीज़ है।


Wednesday, 23 September 2009

Wednesday, 16 September 2009

यौतुबे क्लिप

जाने क्यूँ - दोस्ताना

http://www.youtube.com/watch?v=rInbtnV-YoQ

aaja nachle

यह मेज़ मिर्ची है, एक आकापहला गरूप यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन में

मेरा विडियो

यह विडियो भी बहुत अजीब है।

दिल चाहता है

मेरी हिन्दी की संगीत का विडियो

वह मेरी मनपसंद हिन्दी की संगीत की विडियो क्योंकि मुझे नृत्य की संगीत बहुत पसंद है।

यह गाना "घाजिनी" से है।

खुदा जाने

दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे

विडियो

संगीत अच्छा है.

bollywood

माय देसी गर्ल

यह एक हिन्दी गाना है.

रंगीला रे

रंगीला रे विथ उर्मिला।



ver nice

मुझे यह गाना बहुत पसंद है। और मुझे दोनों अभिनेते पसंद हैं

कभी खुशी कभी ग़म भौत अची फ़िल्म है। यह मरे मैं पुसंद हिन्दी फ़िल्म है।

भाग्भान एक अच्छा फ़िल्म है

मैं अपने माता-पिता के साथ यह फ़िल्म देखा, और बहुत अच्छा हुआ ।

यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिचिगन रास टीम परफॉर्मेंस

रवि शंकर एक "बीबीसी" फ़िल्म में है

रास

रास गुजरात स्टेट से बड़ा चीज हैं
यह पिक्चर नोर्वे में है और बहुत पुसुन्द है क्योंकि मैने लिया
यह एक कोआला बेर है। इस चुटिया में, मैं ऑस्ट्रेलिया गई थी। वहां, मैं एक कोआला बेर को देखा था।

फोटो




रंग संदर है।

नवरात्री!